क्या है "अटल टिंकरिंग लैब्स " - जाने पूरी बात इसके बारे में - Sarkari Naukri Career

Wednesday, December 27, 2017

क्या है "अटल टिंकरिंग लैब्स " - जाने पूरी बात इसके बारे में

क्या है "अटल टिंकरिंग लैब्स " - जाने पूरी बात इसके बारे में
देश की विकास दर को बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा निरंतर प्रयास किये जा रहे है | हाल ही में नीति आयोग द्वारा प्रारंभ किये गये अटल इनोवेशन मिशन के अन्तर्गत अटल टिंकरिंग लैब की स्थापना के लिए 1500 स्कूलों का चयन किया गया है | इन चयनित किये गए विद्यालयों के माध्यम से छात्रों को अपने विचारो को रखने तथा उनको साकार करने का अवसर मिलेगा | इसके बारे में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहे है |



क्या है -अटल टिंकरिंग लैब
देश में नवाचार -इनोवेशन को बढ़ावा देने के लिए नीति आयोग ने अटल नवाचार मिशन -एआईएम को शुरू किया गया है । नवाचार संबर्द्घन मंच के रूप में काम करने वाले इस मिशन में शिक्षाविदों के साथ-साथ उद्यमियों और शोधकर्ताओं को सम्मिलित करने की योजना है । एआईएम के अन्तर्गत एटीएल की स्थापना के लिए देश में अब तक 2441 स्कूलों का चयन किया गया है | अटल टिंकरिंग लैब के अन्तर्गत  कक्षा 6 से लेकर कक्षा 12 तक के विद्यार्थियों के लिए अपने अभिनव विचारों को सजीव रूप प्रदान करने का कार्यस्थल है |

इन कार्यस्थलों में छात्रों को विज्ञान और  प्रौद्योगिकी से जुड़ा कुछ नया करने के लिए प्रोत्साहित किया जायेगा | इसमें  अत्याधुनिक प्रौद्योगिकियों जैसे 3डी प्रिंटर, रोबोटिक्स, संवेदी प्रौद्योगिकी किट, इंटरनेट ऑफ थिंग्स (आईओटी), सूक्ष्म इलेक्ट्रॉनिक्स से युक्त ये कार्य स्थल विद्यार्थियों को उभरती प्रौद्योगिकियों का प्रयोग करके इनकी  सामुदायिक समस्याओं को गहराई से समझने एवं सुलझाने में मदद करते है |

इसमें छात्रों को अपने आप से डिजाइन के बारे में सोचने तथा नवप्रवर्तन को खोजने एवं उसका अनुभव करने तथा  देश के सामाजिक, सामुदायिक या आर्थिक समस्याओं के समाधान के लिये नये समाधान तलाशने को लेकर प्रोत्साहित किया जाता है ।


अटल टिंकरिंग लैब के उददेश्य
अटल टिंकरिंग लैब की स्थापना का मुख्य उद्देश्य युवाओं को ऐसा कौशल प्रदान करना और उन्हें उस प्रौद्योगिकी तक पहुंच प्रदान करना है जो उन्हें समाधान प्रस्तुत करने में सक्षम बनाए । आईओटी उपकरणों तथा रोबोटिक्स का उपयोग कर सेंसर आधारित समाधान विकसित करना भी इन परियोजनाओं में शामिल है | वर्ष 2022 तक अपने सपनों का नया भारतबनाने की दृष्टि से विद्यार्थियों के लिए एक बड़ा अवसर होगा |

इन प्रयोगशालाओं को छात्रों के अनुसार कुछ इस तरह तैयार किया गया है, कि छात्रों को पाठ्य पुस्तकों के अतिरिक्त कुछ नयी जानकारियां मिल सके | इस योजना के अन्तर्गत सरकारी स्कूलों में आधुनिक तकनीकी से युक्त हाई-फाई अटल टिकिंरिंग लैब का निर्माण कराया जाएगा और लैब क्र निर्माण और  संचालन के लिए 20 लाख रुपये दिए जाएंगे | स्कूल में लैब की स्थापना के लिए 10 लाख रुपये दिए जाएंगे ।

पांच वर्ष तक लैब के रखरखाव और संचालन के लिए भी 10 लाख रुपये दिए जाएंगे ।अटल टिंकरिंग लैब क्षेत्रीय और राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताएं, प्रदर्शनी, वर्कशॉप आदि का भी आयोजन कराएगी। विद्यार्थी अपने इनोवेटिव विचार पर काम कर सकेंगे और सीख सकेंगे ।


मित्रों,हमनें आपको यहाँ अटल टिंकरिंग लैब के बारे  में बताया | यदि इससे सम्बंधित आपके मन में कोई प्रश्न आ रहा है, तो अपने प्रश्नों को कमेन्ट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है | हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया का इंतजार कर रहे है |

ऐसे ही रोचक न्यूज़ को जानने के लिए हमारें sarkarinaukricareer.in पोर्टल पर लॉगिन करके आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | यदि आपको यह जानकारी  पसंद आयी हो , तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें |





Advertisement


Advertisement