अगर आपका भी बच्चा है ऑनलाइन तो जान ले ये बात - नहीं तो पछतायेंगे - Sarkari Naukri Career

Monday, February 12, 2018

अगर आपका भी बच्चा है ऑनलाइन तो जान ले ये बात - नहीं तो पछतायेंगे


अगर आपका भी बच्चा है ऑनलाइन तो जान ले ये बात 
आज के युग में लगभग बच्चे अपना अधिकांश समय इंटरनेट पर व्यतीत करते है । इन्टरनेट का प्रयोग कई बार बच्चों के अभिभावकों के लिए परेशानी बन जाती है । ऐसे में उनकी जिम्मेदारी बनती है, कि वह अपने बच्चों को  इंटरनेट से जुड़ें खतरों के बारे में उन्हें अवगत कराये , ताकि उनके बच्चे पर इसका बुरा प्रभाव ना पड़ें ।

बच्चों को  इंटरनेट के खतरे से बचाने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है कि, आपको उन खतरों के बारे में ज्ञात होना चाहिए, तभी आप उन्हे बचाने में सफल हो सकेंगे, यदि आपका बच्चा भी इंटरनेंट पर अधिक समय व्यतीत करता है, तो आपको किन-किन बातों का ध्यान रखना आवश्यक है, इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहें है |


बच्चों  को ऑनलाइन माध्यम से खतरा
आज का युग इंटरनेट युग है, और इंटरनेट का प्रयोग लगभग सभी शहरों और गावों में हो रहा है ,साइबर धमकी और वीडियो गेम की आदत जैसे ऑनलाइन खतरों का शिकार होने वालों में सबसे अधिक संख्या आठ से 12 साल के बच्चों की होती है। इसमें  भारत जैसी उभरती अर्थव्यस्थाओं में यह हालात 'तेजी से बढ़ रहे हैं ।

विश्व आर्थिक मंच और डीक्यू इंस्टीट्यूट की एक संयुक्त रिपोर्ट के अनुसार, आठ से 12 वर्ष की उम्र वाले 50 प्रतिशत से अधिक बच्चे साइबर धमकी, वीडियो गेम की लत, ऑफलाइन मिलने-जुलने, गलत जानकारी और अनेक प्रकार की बातों के बारे में ऑनलाइन जानना इत्यादि, ऑनलाइन खतरों के प्रति अति संवेदनशील होते हैं । उभरती अर्थव्यवस्थाओं में यह समस्या तेजी से बढ़ रही है, जहां ''इंटरनेट को स्वीकार करने की गति तेज है और इसे लेकर अभिभावकों, उद्योग जगत या सरकार की ओर से उचित सुरक्षात्मक उपाय नहीं किए गए हैं ।


डीक्यू इंपैक्ट रिपोर्ट-2018 के अनुसार
हाल ही में 39000  बच्चो पर किये गए सर्वे के अनुसार, 48 प्रतिशत ऐसे बच्चे पाए गए, जो साइबर बुलिंग का शिकार हो चुके है ,और बच्चे लगभग 32  घंटे सिर्फ मनोरंजन के लिए इंटरनेट का उपयोग करते है | डीक्यू इंपैक्ट रिपोर्ट-2018 का मकसद छोटे-छोटे बच्चों के सामने पेश आ रहे डिजिटल खतरों के बारे में सरकार, उद्योग जगत और सिविल सोसायटी को जागरुक करना है, ताकि इस मामले में वह अभिभावकों की मदद कर सकें ।


इन्टरनेट से सम्बंधित आवश्यक बातें
  1. इंटरनेट के खतरों से बच्चों को अवगत कराए ।
  2. अजनबियों से दोस्ती करने मे दिखाए सतर्कता ।
  3. व्यक्तिगत जानकारी किसी से शेयर ना करें ।
  4. अनावश्यक साइट्स को कर दें रिस्ट्रिक्ट । 

यदि आपके बच्चों ने अभी हाल ही में इंटरनेट यूज करना शुरू किया है, तो उन्हें कुछ सलाह अवश्य देनी चाहिए,  जैसे वह  किसी अजनबी से ज्यादा दोस्ती ना करे, तथा उनके साथ अपनी व्यक्तिगत जानकारी शेयर ना करें  । आप अपने बच्चों के इंटरनेट से खरीददारी, डाउनलोड आदि करने में सावधानी रखने की सलाह अवश्य  दें, और उन्हे बताए कि, इससे धोखाधड़ी का शिकार हो सकते है |

मित्रों, यहाँ हमनें आपको बच्चों  को ऑनलाइन माध्यम से खतरों  से बचानें के बारें में बताया | यदि इससे सम्बंधित आपके मन में कोई प्रश्न आ रहा है ,तो कमेंट बाक्स के माध्यम से व्यक्त कर सकते है | हमें आपके द्वारा की गई प्रतिक्रिया का इंतजार है |

ऐसे ही रोचक जानकारी प्राप्त करनें के लिए हमारें sarkarinaukricareer.in पोर्टल पर लॉगिन करके आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | यदि आपको यह जानकारी  पसंद आयी हो , तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें |

इसी प्रकार की अनेक नयी जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे पोर्टल को सब्सक्राइब करें ,यदि आपको किसी प्रकार की समस्या आती है ,तो आप हमसे पूँछ सकते है ,आपके द्वारा पूंछे गये प्रश्नों या जानकारी को आपके समक्ष अतिशीघ्र प्रस्तुत करेंगे |


Advertisement


Advertisement