आधार से जुडी यह नयी खबर आप भी जाने 1 जुलाई से क्या होगा इसमें नया - Sarkari Naukri Career

Monday, March 26, 2018

आधार से जुडी यह नयी खबर आप भी जाने 1 जुलाई से क्या होगा इसमें नया


आधार से जुडी यह नयी खबर आप भी जाने 1 जुलाई से क्या होगा  
भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण नें सत्यापन से सम्बंधित समस्यओं को देखते हुए, एक अहम् निर्णय लिया है, आधार कार्ड धारकों को सत्यापन के लिए ‘फेस ऑथेंटिकेशन’ की सुविधा एक जुलाई से प्रारंभ की जा रही है, इस सुविधा के अंतर्गत, व्यक्ति के चेहरे की स्कैनिंग के माध्यम से पहचान की जाती है, इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहें है |



क्या है- ‘फेस ऑथेंटिकेशन’सुविधा’
भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण के अनुसार, अभी तक आधार कार्ड धारकों का सत्यापन, उनकी अंगुलियों के निशान और आंखों की पुतलियों के स्कैन के माध्यम से  किया जाता था, इन दोनों विकल्पों से सत्यापन में कई लोगों के फिंगरप्रिंट या आंख को स्कैन करने में समस्या होती थी,जिससे लोगों को केवाईसी कराते वक्त मोबाइल पर समय से ओटीपी नहीं मिल पाता था, तथा कई बार ऐसी समस्याओं का भी सामना करना पड़ता था,  इन समस्याओं के समाधान के लिए यूआईडीएआई ने नया नियम फेस ऑथेंटिकेशन’ जारी किया है, जिससे लोगों  की इस समस्या का निराकरण किया जा सकेगा |


यूआईडीएआई के अनुसार,  आधार नामांकन के समय आधार कार्ड धारकों की जो फोटो ली गई थी, वह यूआईडीएआई के डेटाबेस में उपलब्ध है, और उसे ही सत्यापन के लिए प्रयोग किया जाएगा, ‘फेस ऑथेंटिकेशन’ की सुविधा को सत्यापन के किसी एक अन्य विकल्प के साथ ही प्रयोग किया जा सकेगा | सत्यापन के अन्य विकल्पों में आधार कार्ड धारकों की आंखों की पुतलियों या अंगुलियों के निशान का स्कैन या वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) हो सकता है, यूआईडीएआई के मुताबिक, यह सुविधा आवश्यकता के आधार पर कुछ चुने हुए सत्यापन सेवा केंद्रों पर दी जाएगी |


आधार की सुरक्षा संबंधी जानकारी
भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अजय भूषण पांडे ने, आधार की सुरक्षा के लिए उठाए गए कदम को लेकर सुप्रीम कोर्ट में पॉवर प्वाइंट प्रेजेंटेशन दिया, उन्होंने बताया, कि आधार डाटा की सुरक्षा के लिए ‘2048-एनक्रिप्शन की’ का प्रयोग किया गया है, एनडीटवी के अनुसार, पांडे जी ने कहा, कि सुपरकंप्यूटर से भी इसे हैक करने में 13 अरब वर्ष लग जाएंगे आधार डाटा के सेंट्रल डाटाबेस में पहुंचने के बाद उसे साझा नहीं किया जा सकता है, सुप्रीम कोर्ट को सुरक्षा संबंधी जानकारी देते हुए, उन्होंने बताया, कि फेस ऑथेंटिकेशन की सुविधा एक जुलाई से प्रारंभ कर दी जाएगी |




यहाँ आपको हमनें आधार से सम्बंधित ‘फेस ऑथेंटिकेशन’ की सुविधा एक जुलाई से प्रारंभ होने के बारें में बताया | यदि इससे सम्बंधित आपके मन में कोई प्रश्न आ रहा है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से व्यक्त कर सकते है | हमें आपके द्वारा की गई प्रतिक्रिया का इंतजार है |
ऐसे ही जानकारी जानने के लिए हमारें पोर्टल पर आप डेली विजिट करके इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा sarkarinaukricareer.in पोर्टल को सब्सक्राइब करें |




Advertisement


Advertisement