Friday, April 13, 2018

खेल सेक्टर में कैसे बनाये करियर - जाने यहाँ विस्तार से

खेल सेक्टर में कैसे बनाये करियर  
प्रत्येक खिलाड़ी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिनिधित्व करना चाहते है, परन्तु इस स्तर पर पहुंचनें के लिए लगन और समर्पण होना आवश्यक है, हाल ही में आयोजित 'खेलो इंडिया स्कीम' नें  खेल की तरफ लोगों का आकर्षण बढ़ा दिया है, जबकि पूर्व में खेल का सम्बन्ध मात्र नौकरी प्राप्त करनें से था, क्योंकि नौकरियों में स्पोर्ट्स कोटे से भी कुछ नियुक्तियां की जाती है, परन्तु अब लोगो का आकर्षण खेल की तरफ अधिक हो चुका है, इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहें है |



प्राप्त आकड़ो के आधार पर
खेल में लोगो के बढ़ते हुए आकर्षण के बारे में ग्रुप एम की ESP प्रॉपर्टी और स्पोर्ट्स पावर की रिपोर्ट में बताया गया, कि वर्ष में देश में खेलों की स्पॉन्सरशिप में 14.1 प्रतिशत की वृद्धि अंकित की गयी है, जबकि वर्ष 2017 में खेलों में विज्ञापन पर 7,300 करोड़ रुपए खर्च किये गये, और वर्ष 2016 में 6400 करोड़ व्यय किये गये थे,जिससे खेलों में अनेक प्रकार से करियर विकल्प खुले हैं, जिनके माध्यम से सरकारी नौकरी प्राप्त की जा सकती है |

स्पोर्ट्स मैनेजमेंट की स्ट्रीम
वर्तमान समय में जिस गति से लोगो का रुझान खेल के प्रति बढ़ रहा है, ऐसे में भविष्य में उन्हें स्किल्ड मैनेजर की आवश्यकता  पड़ेगी, विभिन्न कंपनियां खेल क्लबों में स्वयं को ब्रांड के रूप में स्थापित करने का प्रयास कर रही है, जिससे यह संकेत मिल रहा है, कि कुछ समय पश्चात बिजनस मैनेजमेंट के अंतर्गत स्पोर्ट्स मैनेजमेंट की नई स्ट्रीम आएगी ।


खेल उपकरणों का उत्पादन
स्टार्टअप इंडिया स्कीम के अंतर्गत, अब ऐसे बहुत से स्टार्टअप्स हैं, जो स्पोर्ट्स मैन्युफैक्चरिंग का कार्य कर रहे हैं, खेल में प्रयोग किये जाने वाले उपकरणों को बनाने के लिए अनुभवी एक्सपर्ट की आवश्यकता होती है, जिन कंपनियों द्वारा खेल उपकरणों को निर्मित किया जा रहा है, वहां खेलों के एक्सपर्ट्स की आवश्यकता है, इस प्रकार खेल के क्षेत्र में रोजगार के अनेक अवसर उत्पन्न होने की संभावना है ।


खेल से सम्बंधित लेखन कार्य
अनेक ऐसे लोग होते है, जिन्हें खेलनें में नहीं, बल्कि खेल से सम्बंधित लेखन कार्य मे रूचि होती है, ऐसे लोग स्पोर्ट्स राइटिंग में एक बेहतर करियर बना सकते हैं,  इसके लिए आप अखबारों या मैग्जीन की दिशा में अपना कदम बढ़ा सकते है |

फिटनेस से सम्बंधित परामर्श
अनेक पैरंटस अपने बच्चों को अच्छा स्पोर्ट्समैन बनाने के लिए फिटनेस प्रोग्राम का प्रयोग कर रहे है, ऐसे में कंसल्टेंट्स की मांग  बढ़ रही है, साथ में  हेल्थ और फिटनेस सेंटर्स का स्कोप बढ़ रहा है, जिसमें एक अनुभवी व्यक्ति की आवश्यकता होती है, इस प्रकार यह क्षेत्र खिलाड़ियों के करियर के लिए एक अच्छा विकल्प है, जिसमें बेहतर करियर बनाया जा सकता है |


खेल में निर्णायक के रूप में
प्रत्येक खेल में निर्णय के लिए एक रेफरी या अम्पायर की आवश्यकता होती है, खेल की गतिविधियाँ बढ़ने से यह अनुमान लगाया जा रहा है, कि आने वाले समय में प्रतियोगिताएं अधिक होंगी, और उन्ही के आधार पर  रेफरी या अम्पायरों की आवश्यकता होगी । स्पोर्ट्स एडजूडिकेटर बनने के लिए खेल के नियमों का अच्छा ज्ञान होना आवश्यक है |    

खेल प्रशिक्षक के रूप में
वर्तमान में सरकार और भारतीय खेल प्राधिकरण की और से खिलाड़ियों के लिए अच्छी स्कीम्स चलाई जा रही हैं, जिसमें   इसमें खिलाड़ियों के बेहतर प्रदर्शन करवाने के लिए बेहतरीन प्रशिक्षकों की मांग है, जिसमें एक प्रशिक्षक के रूप में करियर बनाया जा सकता है, और आप स्वयं की कोचिंग भी खोल सकते हैं ।


स्पोर्ट्मैंन
गेम्स के क्षेत्र में सबसे अधिक चर्चित करियर खिलाड़ी का होता है, क्योंकि खिलाडी को खेल के मैदान के अतिरिक्त भी अनेक ऐसे अवसर प्राप्त होते है, जिनके माध्यम से वह धनार्जन कर सकते है, एक्सपर्ट्स के अनुसार, इंडिविजुअल गेम्स में खिलाड़ियों का बेहतरीन प्रदर्शन उन्हें राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहुचनें का अवसर प्रदान करते है ।

यहाँ आपको हमनें खेल सेक्टर में करियर बनानें के बारें में बताया | यदि इससे सम्बंधित आपके मन में कोई प्रश्न आ रहा है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से व्यक्त कर सकते है | हमें आपके द्वारा की गई प्रतिक्रिया का इंतजार है |
ऐसे ही जानकारी जानने के लिए हमारें पोर्टल पर आप डेली विजिट करके इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा sarkarinaukricareer.in पोर्टल को सब्सक्राइब करें |

Read: जल्द ही 3 लाख + नौकरियां रिन्यूअल एनर्जी के क्षेत्र में
   


  

Advertisement


Advertisement