Thursday, September 13, 2018

हिंदी दिवस कब मनाया जाता है ? जानें पूरी जानकारी


हिंदी दिवस 
भारत में प्रत्येक वर्ष 14 सितंबर को हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है, हिंदी को भारत की राजभाषा इसी दिन घोषित किया गया था | स्वतंत्र भारत की संविधान सभा में जब राष्ट्र भाषा का विषय उठा उस समय संविधान निर्माताओं के समक्ष हिंदी ही सबसे अच्छा विकल्प थी, जो अधिकांश लोगो की मातृ भाषा थी, परन्तु हिंदी को सम्पूर्ण राष्ट्र की भाषा बनाने का कुछ लोगों ने विरोध किया, इसलिए हिंदी के साथ-साथ अंग्रेजी को भी भारत की राजभाषा घोषित किया गया | भारत की स्वतंत्रता के 15 वर्ष के पश्चात जब लाल बहादुर शास्त्री जी प्रधान मंत्री थे, तब उन्होंने अंग्रेजी को राष्ट्र भाषा का दर्जा समाप्त करने का प्रस्ताव लाये, परन्तु गैर-हिंदी भाषी राज्यों ने इसका विरोध आरंभ कर दिया था,  जिसके  कारण यह प्रस्ताव वापस लेना पड़ा |


Read: 8 मार्च को ही क्यों मनाया जाता हैं अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस

हिंदी का राज भाषा बनना
भारत की संविधान सभा नें 14 सितंबर 1949 को हिंदी को राजभाषा के रूप में घोषित किया, इस दिन का महत्व समझते हुए भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू सम्पूर्ण देश में 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाने का निर्णय लिया | वर्ष 1953 में पहली बार हिंदी दिवस मनाया गया, तब से आज तक देश में प्रत्येक वर्ष 14 सितंबर को हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है, इस दिन सभी सरकारी संस्थानों, स्कूलों इत्यादि में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है, विद्यालयों में हिंदी निबंध, भाषण, कविता प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाता है, जिससे छात्रों में हिंदी के प्रति रूचि उत्पन्न हो |

विश्व में हिंदी दिवस
भारत में 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाया जाता है, परन्तु विश्व में 10 जनवरी को हिंदी दिवस मनाया जाता है, विश्व भर में हिंदी के प्रचार-प्रसार के लिए 10 जनवरी को विश्व हिंदी सम्मेलन का आयोजन किया जाता है, विश्व हिंदी सम्मेलन का प्रथम आयोजन 10 जनवरी 1975 को नागपुर में किया गया था | इस आयोजन में 30 देशों के 122 प्रतिनिधि सम्मिलित हुए थे | वर्ष 2006 में तत्कालीन प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह नें विश्व भर में 10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस मनाने की घोषणा की, इसके पश्चात प्रति वर्ष 10 जनवरी को विदेशों में भारतीय दूतावास विशेष कार्यक्रम का आयोजन करते हैं |

राजभाषा सप्ताह का आयोजन  
14 सिंतबर (हिंदी दिवस) से 20 सितम्बर तक राजभाषा सप्ताह मानाया जाता है | इसका मुख्य उद्देश्य हिंदी का प्रचार-प्रसार करना है, जिससे आम जन-जीवन में हिंदी के उपयोग को बढ़ावा मिल सके, इस सप्ताह में विद्यालयों और सरकारी कार्यालयों में विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है |

Read: भारत के पड़ोसी देश कौन है और उनकी राजधानी की सूची

हिन्दी दिवस पर क्रियाएँ
इस दिवस के अवसर पर हिन्दी कविता, कहानी व्याख्यान, शब्दकोष प्रतियोगिता इत्यादि कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है | भारत में अधिकांश लोगों के मध्य संवाद करने का सबसे अच्छा माध्यम हिन्दी है, इसलिए हिंदी का प्रचार-प्रसार करने के लिए यह सभी कार्यक्रम आयोजित किये जाते है | सामान्यत: हिन्दी विश्व में दूसरी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है, हिन्दी दिवस के अवसर पर नई दिल्ली के विज्ञान भवन में हिन्दी से सम्बंधित क्षेत्र में योगदान करने वाले महान व्यक्तियों को भारत के राष्ट्रपति के  द्वारा सम्मानित किया जाता है |

हिन्दी दिवस में राजभाषा पुरस्कार सरकारी  विभागों, मंत्रालयों, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों और राष्ट्रीयकृत बैंकों को दिया जाता है | हिंदी दिवस के अवसर पर प्रदान किये जाने वाले पुरुस्कारों में दो के नाम 25 मार्च 2015 को गृह मंत्रालय द्वारा बदल दिया गया था | पहला इंदिरा गांधी राजभाषा पुरस्कार जो 1986 में स्थापित किया गया था, इसका नाम राजभाषा कीर्ति पुरस्कार रख दिया गया और दूसरा पुरस्कार राजीव गांधी राष्ट्रीय ज्ञान विज्ञान मौलिक पुस्तक लेखन पुरस्कार का नाम परिवर्तित करके  राजभाषा गौरव पुरस्कार रख दिया गया है |

Read: Current Affairs की तैयारी कैसे करे !

राजभाषा कीर्ति पुरस्कार
यह पुरुस्कार राजभाषा सप्ताह में प्रदान किये गए महत्वपूर्ण पुरस्कारों में से एक है, इस पुरुस्कार का मुख्य उद्देश्य सरकारी कार्यों को करने के लिए हिंदी भाषा के उपयोग को बढ़ाना है, इसके अंतर्गत कुल 39 पुरस्कार प्रदान किये जाते है, इस पुरस्कार को किसी समिति, विभाग या मण्डल आदि को उसके हिंदी भाषा में किए गये योगदान के लिए प्रदान किया जाता है |

राजभाषा गौरव पुरस्कार
इस पुरस्कार के अंतर्गत दस हजार से लेकर दो लाख रुपये धनराशि के 13 पुरस्कार आते है, इसको तकनीकी या विज्ञान क्षेत्र में लेखन कार्य करने वाले भारतीय नागरिकों को प्रदान किया जाता है | इस पुरस्कार में धनराशि के अतिरिक्त समृति चिन्ह भी प्रदान किया जाता है, राजभाषा गौरव पुरस्कार का मुख्य उद्देश्य तकनीकी तथा विज्ञान के क्षेत्र में हिंदी भाषा को बढ़ावा देना है |

यहाँ आपको हमनें हिंदी दिवस के बारें में बताया | यदि इससे सम्बंधित आपके मन में कोई प्रश्न आ रहा है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से व्यक्त कर सकते है | हमें आपके द्वारा की गई प्रतिक्रिया का इंतजार है |

ऐसे ही जानकारी जानने के लिए हमारें पोर्टल पर आप डेली विजिट करके इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा sarkarinaukricareer.in पोर्टल को सब्सक्राइब करे |

Read: प्रतियोगिता परीक्षा के लिए तैयारी कहाँ से और कैसे Start करे

Advertisement


Advertisement


No comments:

Post a Comment

If you have any query, Write in Comment Box