Tuesday, 5 January 2016

कोर्स और कॉलेज का चयन कैसे करें- जानिए Tips

कोर्स और कॉलेज का चयन कैसे करें- जानिए Tips

दोस्तों आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से जानेंगे कि हमे अच्छा करियर बनाने के लिए किस तरह का कोर्स करना चाहिए और कैसे कॉलेज का चयन करना चाहिए ? हमें ऐसे कोर्स और कॉलेज का चयन करना चाहिए जिससे हम भविष्य के लिए अच्छा तैयार हो सके|

सभी स्टूडेंट्स का सपना होता है कि पढ़ाई के बाद अच्छी सैलरी और अच्छा पे-पैकेज मिले| जिससे वो अपनी जीवन के सपनों को पूरा कर सकें | ऐसे सपनों को पूरा करने के लिए जिस क्षेत्र को पढ़ाई के लिए चुनेंगे उसमे अच्छी मेहनत करनी होती है तभी हम सफल हो सकते है |

कैसे कॉलेज को चुनें-
कहीं भी एडमिशन से पहले उसकी जाँच-परख कर  लें कि वह एआईसीटीई (ऑल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन) या यूजीसी (यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमिशन) से मान्यता प्राप्त है या नहीं। फैकल्टी के बारे में फर्स्ट हैंड इंफॉर्मेशन वहां के स्टूडेंट्स से हासिल करें। उनसे इंटर्नशिप और प्लेसमेंट की जानकारी के बारें में पूरा जानें । आंख मूंदकर सिर्फ कॉलेज की वेबसाइट पर भरोसा न करके और भी जहाँ से जानकारी मिल पाये एकत्र करें |


कैसे करने चयन-
अधिकतम स्टूडेंट्स इंटरमीडिएट में  साइंस, कॉमर्स या आर्ट्स, जो भी स्ट्रीम सिलेक्ट करते हैं, उसी से आगे का करियर तय करते है | इसी आधार पर वे मेडिकल, इंजीनियरिंग, कम्प्यूटर साइंस, सीए, सीएस, एमबीए, होटल मैनेजमेंट, फैशन डिजाइनिंग आदि कोर्सेज में प्रवेश लेते है | स्टूडेंट्स को यह समझना महत्वपूर्ण होता है कि वह किस विषय का चयन करें |

पैशन को पहचानें-
हमें कोई भी काम करते समय हमे अपना पैशन अवश्य ही पहचानना होता है कि आपका पैशन क्या है? आप क्या पढ़ना चाहते हैं? किन विषयों में आपकी रुचि है? 10वीं से 12वीं पैशन पहचानने का सबसे अच्छा समय होता है जो इस समय अपने पैशन को पहचान लेता है , वह सही समय पर निर्णय लेगा , स्ट्रैटेजी, प्लानिंग के साथ आगे बढ़ेगा ,तो भविष्य में ऑप्शंस की कमी नहीं रहेगी।


कंफ्यूजन को दूर करें-
अगर आपके अंदर कंफ्यूजन है, तो अपने टीचर, पैरेंट्स या सीनियर्स से सलाह अवश्य ले आपको उससे निर्णय लेने में सहायता मिलेगी | कभी भी करियर का फैसला अंत समय में न लें। इससे गलतियां होने की आशंका होने लगती है। सलाह लेने से किसी भी समस्या का हल निकल सकता है |

दोस्तों की नकल न करें-
प्रत्येक स्टूडेंट्स कि क्षमता दूसरे विषयों में होती है | किसी को मैथ्स अच्छी लगता है, किसी को पेटिंग में मजा आती है, तो कोई डांसर बनने का सपना देखता है | लेकिन यह आवश्यक नहीं कि जो दूसरे कर रहे हों, तो आप भी वैसा ही करने की सोचें | जबरन इंजीनियरिंग या मेडिकल की तैयारी में वक्त बर्बाद न करें। यदि वो आपको खुद करना अच्छा लगे तो ही चुनें |


मोटीवेट होते रहें -
जीवन में सफल होने के लिए और आत्मविश्वास को बढ़ाने के लिए मोटीवेट होते रहें | मोटीवेट होने के लिए किसी एक्सपर्ट , मैगज़ीन , newspaper की सहायता लेते रहे |  अलग-अलग फील्ड्स के जानकारों से मिलें, इससे संतुलित राय बनाना आसान होगा | आपको निर्णय लेने में काफी सहायता मिलेगी |

इन सभी बातों को ध्यान में रखकर हम कोर्स और कॉलेज का चयन आसानी से कर सकते हैं | हमें विश्वास है कि आपको कॉलेज और कोर्स के चयन में जरूर मदद मिलेगी |

यदि अभी भी आपके मन में करियर से रिलेटेड कोई सवाल है तो आप कमेंट बॉक्स के माध्यम से अपने सवालों को पूछ सकते हैं, आपके सवालों, प्रतिक्रिया और सुझाव का हमें हमेशा इंतज़ार रहेगा | अगर आपको ये आर्टिकल पसंद आया हो तो हमारे फेसबुक पेज को like करना न भूलें |




सरकारी नौकरियों के ताज़ा अपडेट (हिंदी में ) फेसबुक पर पाने के लिए नीचे दिए बटन को लाइक करें

0 comments:

Post a Comment

Speak your Mind

Subscribe for Job alerts

Note: Please check your inbox to get your email verify.

TOP