Tuesday, 19 January 2016

क्या है Startup India - जानने योग्य बाते




क्या है Startup India - जानने योग्य  बाते-

मित्रों , आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से मेक इन इंडिया के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने देश की अर्थव्यवस्था और लोगों के लिए रोजगार सृजन करने हेतु स्टार्ट अप इंडिया स्कीम की शुरुआत की है। इसका सीधा लाभ देश के करोड़ो लोगो को प्राप्त होगा | 

जिससे देश के उन्नति हेतु यह स्कीम बहुत ही सदुपयोगी सिद्ध होगी |


इस स्कीम के अंतर्गत उन लोगों को सुनहरा अवसर प्रदान किया गया है यदि आप अपना कोई व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं तो इस प्रोजेक्ट के द्वारा आपको विशेष सहायता प्राप्त होगी । यह प्रोजेक्ट प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बहुत ही महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट है।



स्टार्टअप की जानने योग्य बातें-

स्टार्ट-अप के मामले में विश्व बाजार में भारत की स्थिति-

भारत अब व्यावासाय करने के क्षेत्र में दुनिया के प्रमुख देशों में शामिल होने की ओर अग्रसर हो रहा है | बहुत सी ऐसी कंपनियां हैं जो विदेशों को छोड़कर भारत में आने के लिए अग्रसर हुई है | यह जानकारी भी प्राप्त हुई है कि ट्विटर जिपडॉयल के फाउंडर वेलरी वेगनर ने अमेरिका छोड़कर भारत में काम करना शुरू कर दिया है |

इसके अलावा जूमकार के को-फाउंडर ग्रेग मोरान ने जानी-मानी सिलिकॉन वैली को छोड़ कर, अपना कारोबार बंगलूरू में प्रारम्भ कर दिया है | इतना ही नही इसके अलावा भी कुल विदेशी कंपनियों मे से 45 फीसदी कंपनियां ऐसी हैं जो भारत में 10 फीसदी का स्टार्ट अप डाल  रहे है | यदि हम बात भारत की करें तो स्टार्टअप के मामले में स्थिति यहां अच्छी दिखाई दे रही है |

‘ट्रैकर सीबी इनसाइट’ के आंकड़ों से ‘यूनिकॉर्न क्लब’ के अंदर विश्व की 107 ग्लोबल फर्मों में आठ भारतीय कंपनियां चुनी गई है | इन कंपनियों में 1 अरब डॉलर से ज्यादा की फ्लिपकार्ट, स्नैपडील, म्युसिग्मा, हाऊसिंग डॉट कॉम, क्लियर ट्रिप, ओला भी सम्मिलित हैं। इसके अतिरिक्त ऑनलाइन क्लासीफाइड सर्विस कंपनी ‘क्विकर’ और मोबाइल विज्ञापन प्लेटफॉर्म देने वाली कंपनी ‘इनमोबी’ भी इस क्लब में चुनी गई हैं।


कैसे होगा फंड का जुगाड़-
यदि आपके पास फंड की कमी है तो आप अपनी पूंजी व बैंक लोन की औपचारिकता पूरी करनी होगी उसके पश्चात कंपनी लॉ के तहत रजिस्ट्रेशन किया जाता है | उसके बाद मंत्रालय गाइडलाइन के अनुसार  लघु, छोटे व मध्यम एंटरप्रइजेज से अप्रूवल लेना आवश्यक होता है।

इस प्रक्रिया के पश्चात  आपको 1 करोड़ रु. तक का फंड बैंक से बिना कुछ जमानत रखे मिल जायेगा | एक स्टार्टअप प्रारम्भ करने हेतु आपको अपनी प्रोजेक्ट रिपोर्ट को  तैयार रखना होगा एवं उत्पाद के लिए पर्यावरण व श्रम मंत्रालय से एनओसी भी लेना अनिवार्य होगा । इस प्रक्रिया के बाद स्टार्ट अप में थोड़ी सी भी यदि सफलता प्राप्त हुई तो विदेशी निवेशक या वेंचर कैपिटलिस्ट मिल जाते हैं ।

स्टार्टअप के लिए अगर आपको मदद चाहिए-
यदि आप स्टार्टअप से मदद लेना चाहते है तो आप अनलिमिटेड इंडिया, मुंबई भी जा सकते हैं जहां विशेषज्ञों की प्रस्तुति करण में इनक्यूबेशन के साथ कारोबार शुरू करने के लिए पैसा भी दिया जा सकता है । 3 टियर फंडिंग में 80 हजार से 20 लाख तक की फंडिंग यहां से नियमानुसार हो सकती है।


स्टार्ट अप की विफलताए-
फार्च्यून द्वारा किए गए एक सर्वे में स्टार्ट अप की बहुत सी विफलताएं सामने आयी है | इसके सर्वे के अनुसार 100 में से 90 स्टार्ट अप विफल रहें हैं, इसके अलावा 42 फीसदी स्टार्ट अप ऐसे भी हैं जिनके प्रोडक्ट की बाजार में आवश्यकता ही नहीं थी । इतनी विफलताये होने के बाद भी भारत में स्टार्ट अप के हालात अच्छे माने गए है।

स्टॉर्ट अप का ग्राफ-
जहाँ साल 2010 में देश में केवल 480 स्टार्ट अप ही थे वहीं 2011 में यह संख्या 45 अंक बढ़कर 525 तक पहुंच गई थी । 2012 में 65 स्टार्ट अप की बढ़ोत्तरी हुई , इसके बाद कुल 590 स्टार्ट अप हो गए । 2013 के भीतर भारत में स्टार्ट अप की संख्या 680 पहुंची । 2014 में  स्टार्ट अप की संख्या जहाँ 805 पहुंच गई वहीं इसकी सहायता से देश के 65,000 लोगों को रोजगार मिला । 2015 में स्टार्ट अप की संख्या बढ़कर 1200 हो गई जिसके माध्यम से 80,000 लोगों को रोजगार प्राप्त हुआ |

स्टार्ट अप्स की सहायता से आने वाले भविष्य में अगले 5 साल की 3 लाख नौकरियों के खड़े होने की उम्मीद है । वहीं नैस्कॉम का आंकड़ा है कि 2020 तक 11,500 स्टार्ट अप शुरू हो जायेंगे । स्टार्ट अप के माध्यम से भारत ने 240 करोड़ डॉलर की फंडिंग आकर्षित की है । भारत में स्टार्ट अप का ग्राफ हर साल बढ़ता ही जा रहा है ।


दोस्तों , हमने इस आर्टिकल के माध्यम से आज प्रधानमंत्री जी द्वारा दी जा रही स्टार्टअप योजना के बारें में जाना | यदि अभी आपके मन में कोई प्रश्न है तो आप कमेंट बॉक्स के माध्यम से अपने प्रश्नों को पूछ सकते हैं, आपके सवालों, प्रतिक्रिया और सुझाव का हमें हमेशा इंतज़ार रहेगा | अगर आपको ये आर्टिकल पसंद आया हो तो हमारे फेसबुक पेज को like करना न भूलें |





सरकारी नौकरियों के ताज़ा अपडेट (हिंदी में ) फेसबुक पर पाने के लिए नीचे दिए बटन को लाइक करें

0 comments:

Post a Comment

Speak your Mind

Subscribe for Job alerts

Note: Please check your inbox to get your email verify.

TOP