"मेक इन इंडिया" की तर्ज़ पर अब "मेक इन यू० पी०" योजना - जाने पूरी जानकारी - Sarkari Naukri Career

Thursday, December 28, 2017

"मेक इन इंडिया" की तर्ज़ पर अब "मेक इन यू० पी०" योजना - जाने पूरी जानकारी

"मेक इन इंडिया" की तर्ज़ पर अब "मेक इन यू० पी०" योजना - जाने पूरी जानकारी
मेक इन इंडिया भारत सरकार द्वारा शुरूआत 25 सितंबर 2014 को हमारे माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने शुभारंभ किया था । मेक इन इंडिया मिशन का उददेश्य भारत में नई टेक्नालॉजी के विकास और भारत में ही बनाए जाने वाले उत्पादों को बढ़ावा देना है । मेक इन इंडिया की तर्ज पर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा यू०पी० में ‘मेक इन यूपी’ योजना को लांच करने पर विचार किया जा रहा है | इसके बारे में आपको इस पेज बता रहे है |


"मेक इन इंडिया" की तर्ज़ पर अब "मेक इन यू० पी०" योजना
उत्तर प्रदेश सरकार यू०पी० में ‘मेक इन इंडिया’ की तर्ज पर ‘मेक इन यूपी’ को लांच करने के बारे में निर्णय ले रही है | स्टार्टअप के माध्यम से देश में बेरोजगारी की समस्या दूर की जा सकेगी | जिस प्रकार सैमसंग का फ़ोन खरीदने पर उसके बाक्स में मेड इन कोरिया लिखा होता है | सरकार चाहती है, कि हमारे देश में भी ऐसी चीजे  बनें, जिसमें मेक इन यूपी लिखा हो | इससे विश्व में एक नयी पहचान बनेगी |


हमारे उत्तर प्रदेश का प्रत्येक शहर किसी न किसी कार्य के लिए प्रसिद्ध है जैसे – कन्नोज ,इत्र के लिए ,आगरा –पेठा के लिए ,कानपुर –लेदर के लिए प्रसिद्ध है | यदि इन शहरों में प्रसिद्ध चीजो से सम्बंधित स्टार्टअप के माध्यम से विकसित किया जाये, तो वास्तव में ‘ब्रांड उत्तर प्रदेश ’ लिखने में अधिक समय नहीं लगेगा | यही सोंचकर सरकार इस दिशा में कदम उठा रही है |


‘मेक इन यूपी’ का उददेश्य और लाभ
 स्टार्टअप के माध्यम से विदेशी कंपनियों को भारत में निवेश करने के लिए प्रेरणा मिले तथा भारत में ही उत्पादों को बनाने का प्रोत्साहन दिया जाये, सिर्फ विदेशी उत्पादों बल्कि योजना के अन्तर्गत भारतीय कंपनियों के उत्पादों को भी बढ़ावा मिलेगा । निवेश बढ़ने के साथ-साथ स्थानीय स्तर पर रोजगार की वृद्धि होगी |

देश में स्टार्टअप से सबसे बड़ा फायदा यह होगा, कि देश में निर्मित वस्तु का मूल्य कम होगा और लोगो को आसानी से उपलब्ध हो पायेगी, इसके साथ – साथ यहाँ के लोगो में अपने ब्रांड के प्रति रूचि बढ़ेगी । इसके अतिरिक्त यदि वस्तु का निर्माण भारत में ही होगा तो उसका निर्यात कर भी राजकीय खजाने में जमा किया जा सकेगा ।


मित्रो, हमने आपको यहाँ ‘मेक इन यूपी’ योजना के बारे में बताया | यदि इससे सम्बंधित आपके मन में कोई प्रश्न आ रह है तो कमेंट बाक्स के माध्यम से व्यक्त कर सकते है | आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया का हमें इंतजार है |

ऐसे ही रोचक न्यूज़ को जानने के लिए हमारें sarkarinaukricareer.in पोर्टल पर लॉगिन करके आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | यदि आपको यह जानकारी  पसंद आयी हो , तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें |



Advertisement


Advertisement