बैंक मैनेजर कैसे बने - जाने पूरी जानकारी (हिंदी में ) - Sarkari Naukri Career

Tuesday, January 16, 2018

बैंक मैनेजर कैसे बने - जाने पूरी जानकारी (हिंदी में )


बैंक मैनेजर कैसे बने - जाने पूरी जानकारी (हिंदी में )
आज के समय में प्रत्येक व्यक्ति अपने लक्ष्य को निर्धारित कर डॉक्टर, इंजीनियर, कलेक्टर, बैंक मैनेजर बननें का प्रयास करते है | यदि आप एक बैंक मैनेजर बनना चाहते है , तो आपको इसकी अच्छी तैयारी करनी होगी ,क्योकि बैंक मैनेजर आज के समय में सबसे अच्छा प्रोफाइल बन चुका है ,और सबसे अधिक कम्पटीशन वाली जॉब प्रोफाइल बैंक की है | बैंक मैनेजर बननें हेतु पूर्ण जानकारी प्राप्त करना आवश्यक है | इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहें है |

बैंक मेनेजर बननें हेतु आवश्यक जानकारी
प्रशासनिक सेवा के बाद बैंकिंग बेहतर करियर में से एक है ,जिसमे आप किसी भी विषय से अपनें कैरियर को चुन सकते हैं। बैंक मैनेजर एक बैंक शाखा का संचालन संभालता है, जो आम तौर पर एक बड़ी वित्तीय इकाई द्वारा स्वामित्व और संचालित होता है । वह  बैंक की नीतियों का संचालन करते हैं, कंपनी और कानूनी नियमों का पालन सुनिश्चित करते हैं, और अन्य बैंक कर्मचारियों की निगरानी के लिए जिम्मेदार होते हैं ।


वे बैंक के संचालन और बजट को लागू करते हैं, और उनके द्वारा एक लाभदायक तरीके से अपना संचालन चलाने की उम्मीद की जाती है । बैंक मैनेजर से अपनी शाखा बढ़ाई जा सकती है ,ताकि ग्राहकों के आधार पर विस्तार हो सके और यह सुनिश्चित किया जा सके कि, बैंक को बाजार में ठीक से विपणन किया गया है । बैंक और उस इकाई के आधार पर, जो नियमों और नई आवश्यकताओं पर सतत प्रशिक्षण देना है, बैंक मैनेजर के काम का हिस्सा हो सकता है |


बैंक से सम्बंधित जानकारी
आप सरकारी बैंक ,और प्राइवेट बैंक के माध्यम से अपने करियर को चुन सकते है ,परन्तु दोनों प्रकार की बैंकों में चयन प्रक्रियाए अलग –अलग है | किसी भी बैंक को अपने करियर के रूप में चयनित करने से पूर्व उसके बारें में पूर्ण जानकारी आवश्यक है |

सरकारी बैंक
आपको बैंक की नौकरी प्राप्त करने के लिए आईबीपीएस द्वारा आयोजित परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी ,जिसके लिए आपको नियमित परिश्रम करना होगा | आईबीपीएस लगभग 20 बैंकों हेतु अभ्यर्थियों का चयन कराती है | इस परीक्षा में प्रतिवर्ष लाखो की संख्या में अभ्यर्थी सम्मिलित होते है |


निजी बैंक
प्राइवेट बैंक में जॉब प्राप्त करने के लिए आपको पीओ की परीक्षा उत्तीर्ण करना आवश्यक है | जिस प्रकार सरकारी बैंक में चयन प्रक्रिया आईबीपीएस द्वारा को जाती है ,उसी प्रकार प्राइवेट बैंक में पीओ परीक्षा उत्तीर्ण करके नौकरी प्राप्त की जा सकती है |

 बैंक मैनेजर पर हेतु आवश्यक योग्यता
1.बैंक में आवेदन करने वाले अभ्यर्थी भारत का नागरिक होना आवश्यक है |
2.स्नातक ६० प्रतिशत अंको के साथ आयु 20 से 30 के मध्य होना आवश्यक है |
3.बैंक मैनेजर बननें हेतु मनेजमेंट शिक्षा के अंतर्गत एमबीए या पीजीडीबीएम की डिग्री अनिवार्य है ।
4.अभ्यर्थी को कंप्यूटर से सम्बंधित जानकारी आवश्यक है ,या एकाउंट से सम्बंधित कोर्स में डिप्लोमा होना चाहिए |  

बैंक मेनेजर की चयन प्रक्रिया

1.प्रारंभिक परीक्षा
बैंक मेनेजर बननें हेतु यह पहला चरण होता है , इस परीक्षा के द्वारा अभ्यर्थी की योग्यता की परख की जाती है | इस परीक्षा के माध्यम से अभ्यर्थियों को योग्यता के अनुसार चयन किया जाता है | यह परीक्षा अत्यंत महत्वपूर्ण होती है ,और इस परीक्षा हेतु अभ्यर्थियों को कठिन परिश्रम की आवश्यकता होती है |

2.मुख्य परीक्षा
यह परीक्षा बैंक मेनेजर बनने हेतु दूसरा चरण होता है | यह परीक्षा प्रारंभिक परीक्षा से कठिन होती है | प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण छात्रों को मुख्य परीक्षा में बुलाया जाता है | 


3.साक्षात्कार
दोनों परीक्षाओं में उत्तीर्ण छात्रों को साक्षात्कार में अपने शैक्षिक प्रपत्रों के साथ बुलाया जाता है | इस परीक्षा में अभ्यर्थियों से अनेक प्रकार के प्रश्न पूछे जाते है ,उनके उत्तर के आधार पर उनका चयन किया जाता है |


4.समूह विचार विमर्श
इस अंतिम चरण में अभ्यर्थी को किसी एक विषय पर अपने विचार व्यक्त करना होता है ,और अपने विचारो के माध्यम से अपनी योग्यता को सिद्ध करना होता है |


परीक्षा से सम्बंधित सभी विषयों पर ध्यान देना आवश्यक

Reasoning: यह बैंक की परीक्षा में अत्यंत महत्वपूर्ण है , इसका अच्छा अभ्यास आपको अच्छे से अच्छे नंबर दिला सकते हैं । पेपर के इस हिस्से में सवाल के 4 विकल्प होते हैं ,जिसमें से आपको एक सही जबाब चुनना होता है । इसमें रिश्तेदार, दिशा, डायग्राम से सम्बंधित प्रश्न होते हैं । रीजनिंग में शार्ट ट्रिक्स का उपयोग किया जाता है | जिससे आप अधिक अभ्यास से सीख    सकते हैं । रीजनिंग को हमेशा शांत माहौल में एकाग्रता होकर करें ।


Quantitative Aptitude: इस एप्टीट्यूड में आपसे गणित से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते है |  इसके लिए आपको वर्ग, ज्यामिति, बीज गणित, अंक प्रणाली, अनुपात, प्रतिशत, ब्याज, मूलधन आदि प्रश्न आने बहुत जरूरी हैं । इस भाग को हल करने के लिए आपकी मैथ्स अच्छा होना चाहिए । यदि आप अगर स्कूल या कॉलेज में है और साथ-साथ बैंक की तैयारी कर रहे हैं तो आप मैथ्स सब्जेक्ट को अधिक तैयार करें ।


English: बैंक के पेपर्स में इंग्लिश स्कोरिंग सब्जेक्ट होता है, यदि आपकी इंग्लिश अच्छी है तो आप अधिक नंबर लाकर बैंक  का पेपर क्लियर कर सकते हैं। बैंक के एग्जाम में अधिकतर लोग ऐसे होते हैं जो इंग्लिश पर कन्सट्रैन्ट नहीं करते हैं सिर्फ पास होने के लिए पढ़ते हैं। अगर आपकी अंग्रेजी अच्छी है तो आपको बहुत ज्यादा प्रायोरिटी  मिलती है। बैंक  के एग्जाम  में इंग्लिश  वर्ड  के मीनिंग , ग्रामर ,पैराग्राफ आते हैं ।


बैंक मैनेजर को वेतन
बैंक में मैनेजर पद हेतु वेतन अनुमानतः 20,000 से 62,000 रुपये प्रतिमाह दिया जाता है ,और समयनुसार वेतन में वृद्दि होती रहती है |

मित्रों,यहाँ हमनें आपको बैंक मैनेजर बननें के बारें में बताया | यदि इससे सम्बंधित आपके मन में कोई प्रश्न आ रहा है तो कमेंट बाक्स के माध्यम से व्यक्त कर सकते है | हमें आपके द्वारा की गई प्रतिक्रिया का इंतजार है |

ऐसे ही रोचक न्यूज़ को जानने के लिए हमारें sarkarinaukricareer.in पोर्टल पर लॉगिन करके आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | यदि आपको यह जानकारी  पसंद आयी हो , तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें |

Read: Tips to Crack IBPS PO in One Attempt


Advertisement


Advertisement