स्टार्टअप शुरू करने का मन हो तो लीजिये ट्रेनिंग लखनऊ विश्विद्यालय से - पढ़े पूरी बात

Tuesday, February 20, 2018

स्टार्टअप शुरू करने का मन हो तो लीजिये ट्रेनिंग लखनऊ विश्विद्यालय से - पढ़े पूरी बात

स्टार्टअप शुरू करने का मन हो तो लीजिये ट्रेनिंग लखनऊ विश्विद्यालय से
स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा निरंतर प्रयास किये जा रहे है | आज लगभग प्रत्येक युवा के लिए स्टार्टअप एक विकल्प बनता जा रह है | स्टार्टअप का अर्थ, किसी कार्य को नए ढंग से करने के नए तरीके से है | 

स्टार्टअप शुरू करने वाले छात्रों की सहायता के लिए लखनऊ विश्वविद्यालय ने एक अहम कदम उठाया है ,जिसके अंतर्गत अब विद्यार्थियों को पढ़ाई के साथ-साथ अपना रोजगार शुरू करने का प्रशिक्षण दिया जायेगा, तथा बिजनेस में आने वाली समस्याओं से निपटने के बारे में बताया जायेगा, इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहें है |


लखनऊ विवि में स्टार्टअप शुरू करने हेतु प्रशिक्षण
स्मॉल इंडस्ट्रीज एंड मैनुफैक्चर्स एसोसिएशन के सहयोग से लखनऊ विश्वविद्यालय स्टार्टअप शुरू करने वाले छात्रों को कैम्पस में ही अलग-अलग वर्कशॉप के माध्यम से हर तरह का प्रशिक्षण दिया जायेगा | कॉमर्स विभाग के डीन प्रो. सोमेश शुक्ल ने बताया कि, नौजवान छात्र अपने थोड़े से अनुभव या किसी के कहने, बताने पर व्यापार का शुभारम्भ कर देते हैं, और बाद में उन्हें अनेक प्रकार की कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है, जिससे उन्हें हानि के साथ- साथ व्यापार की तरफ से लगाव न के समतुल्य हो जाता है |  

अब छात्रों को पढ़ाई के साथ ही स्टार्ट अप शुरू करने में हर तरह की सहायता दी जाएगी, चाहे वह सरकारी विभागों की पूरी कागजी प्रक्रिया हो या फिर बैंक की मदद, या फिर व्यापार को आगे बढ़ाने की रणनीति | छात्रों के सामने आने वाली हर तरह की समस्याओं से अवगत कराया जायेगा |  इंडस्ट्रीज के संस्थापकों से लेकर अन्य प्रोफेशनल इस एसोसिएशन से जुड़े हैं, जो समय समय पर छात्रों की मदद करेंगे, यह कक्षाएं विश्वविद्यालय परिसर में आयोजित की जाएँगी ।


भारत में स्टार्टअप की वृद्धि
देश में स्टार्टअप की संख्या प्रत्येक वर्ष  बढ़ रही है, वर्ष 2010 में 480 स्टार्टअप की शुरुआत हुई थी,  इसके पश्चात वर्ष 2011 में 525, जबकि 2012 में 590 स्टार्टअप ,2013 में 680 और फिर 2014 में 805 स्टार्टअप शुरू हुए. 2015 में यह आंकड़ा एक हजार को क्रास कर गया, इस साल सबसे ज्यादा यानी 1200 स्टार्टअप शुरू हुए है |

देश मे स्टार्टअप शुरू करने का यह एक बेहतर समय है, क्योंकि में विश्व में तेजी से परिवर्तन हो रहा है, सब कुछ ऑनलाइन हो रहा है, आपका एक अच्छा आइडिया न सिर्फ बदलाव की वजह बन सकता है, बल्कि लाखों लोगों के लिए रोजगार का अवसर बन सकता है, भारत में स्नैपडील, पेटीएम, फ्लिपकार्ट, ओयो रूम्स और ओला इसके उदाहरण हैं |


यहाँ आपको हमनें लखनऊ विश्वविद्यालय में स्टार्टअप से सम्बंधित शुरू होने वाली ट्रेनिंग के बारें में बताया | यदि इससे सम्बंधित आपके मन में कोई प्रश्न आ रहा है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से व्यक्त कर सकते है | हमें आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया का इंतजार है |

ऐसे ही जानकारी जानने के लिए हमारें पोर्टल पर आप डेली विजिट करके इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा sarkarinaukricareer.in पोर्टल को सब्सक्राइब करें |



Advertisement


Advertisement