Samiksha Adhikari RO ARO Syllabus in Hindi - परीक्षा की समस्त जानकारी - Sarkari Naukri Career

Thursday, March 15, 2018

Samiksha Adhikari RO ARO Syllabus in Hindi - परीक्षा की समस्त जानकारी

Samiksha Adhikari RO ARO Syllabus in Hindi
उत्तर प्रदेश सरकार का मुख्य कार्यालय सचिवालय है, कार्य के शीघ्र निस्तारण और सुविधा हेतु इसे विभिन्न शाखाओं में विभाजित किया गया है, जिसमें एक या अधिक विभाग है, प्रत्येक विभाग एक या अधिक अनुभागों में विभाजित है, अनुभाग इस संगठन की मूल इकाई है, अनुभागों के प्रभारी अनुभाग अधिकारी होते हैं, जो राजपत्रित स्तर के होते हैं, अनुभागों में एकाधिक समीक्षा अधिकारी, सहायक समीक्षा अधिकारी, कम्प्यूटर सहायक व अनुसेवक कार्यरत होते है, आप एक समीक्षा अधिकारी कैसे बन सकते है और सम्बंधित पाठ्यक्रम के बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहें है |


समीक्षा अधिकारी बननें हेतु   
समीक्षा अधिकारी बननें के लिए अभ्यर्थी किसी भी मान्यताप्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री या समकक्ष होना आवश्यक है | समीक्षा अधिकारी का चयन प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा के आधार पर होता है, इस परीक्षा में साक्षात्कार नहीं लिया जाता ,समीक्षा अधिकारी बननें के लिए अभ्यर्थी को प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण करनी होती है, यह परीक्षा 200 अंको की होती है,तथा इसमें सामान्य अध्ययन और हिंदी से सम्बंधित बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाते है, सामान्य अध्ययन से 140 और हिंदी 60 बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाते है |

सामान्य अध्ययन की परीक्षा से सम्बंधित जानकारी   
 सामान्य अध्ययन से सम्बंधित पाठ्यक्रम के अंतर्गत निम्न पुस्तकों की सहायता ले सकते है |

1.भारतीय भूगोल
कक्षा 11 की एनसीईआरटी की भौतिक पर्यावरण, परीक्षावाणी की भारतीय भूगोल और घटनाचक्र पूर्वावलोकन ।


2.विश्व भूगोल
महेश बर्णवाल और घटनाचक्र पूर्वावलोकन ।

3.भारतीय अर्थव्यवस्था
घटनाचक्र पुनरावलोकन और प्रतियोगिता दर्पण तथा भारतीय अर्थव्यवस्था से सम्बंधित जानकारी के लिए परीक्षावाणी की भारतीय अर्थव्यवस्था पुस्तक से प्रारंभ करें,  इस पुस्तक की सहायता से राष्ट्रीय  आय, कृषि आर्थिकी, बैंकिंग और पूँजी बाजार, विदेश व्यापार और अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक संगठनों के बारें में जानकारी प्राप्त की जा सकती है ।

4.संविधान से सम्बंधित जानकारी प्राप्त करनें के लिए परीक्षावाणी की भारतीय राजव्यवस्था और घटनाचक्र पूर्वावलोकन ।

5.कृषि के लिये घटनाचक्र की किताब ‘कृषि प्रौद्योगिकी’ और घटनाचक्र पूर्वावलोकन ।

6.इतिहास: भारतीय इतिहास से सम्बंधित जानकारी के लिए यूनिक या स्पेक्ट्रम की पुस्तक का प्रयोग कर सकते है, विशेष रूप  से भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन के प्रश्नो के लिए किरण कॉम्पटीशन और घटनाचक्र पूर्वावलोकन, भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन से सम्बंधित पूछें जाने वाले प्रश्नों की संख्या अधिक होती है ।

7.साइंस के लिए एनसीईआरटी और घटनाचक्र पूर्वावलोकन और घटनाचक्र समसामयिक वार्षिकी के विज्ञानं प्रौद्योगिकी ।

8.जनसंख्या और नगरीकरण के लिए परीक्षावाणी की पुस्तक ।

9.उत्तर प्रदेश विशेष के बारे में जानने के लिए परीक्षावाणी की पुस्तक बहुत उपयोगी है ।

10.समसामयिकी के लिए डेली न्यूज़ पेपर तथा हमारे इस पोर्टल पर करंट अफेयर्स के सेक्शन से आप डेली करंट न्यूज़ आसानी से पढ़ सकते है |


हिंदी प्रश्न पत्र से सम्बंधित जानकारी
हिंदी प्रश्न पत्र में 60 बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाते है |

क्रम स० हिंदी पाठ्यक्रम प्रश्नों की स०
1. विलोम शब्द 10 प्रश्न
2. वाक्य शुद्धि एवं वर्तनी 10 प्रश्न
3. अनेक शब्दों के लिए एक शब्द 10 प्रश्न
4. तत्सम और तद्भव 10 प्रश्न
5. विशेषण और विशेष्य 10 प्रश्न
6. पर्यायवाची शब्द 10 प्रश्न
कुल प्रश्नों की संख्या  60


हिंदी की उपयोगी पाठ्य पुस्तके
  1. हरदेव बाहरी की किताब |
  2. यूथ प्रकाशन का आर ओ/ ए आर ओ सामान्य हिंदी |
  3. एस आर पब्लिकेशन की समीक्षा अधिकारी हिंदी ।
  4. एस आर पब्लिकेशन और शिल्पी प्रकाशन का समीक्षा अधिकारी पिछले वर्ष का हिंदी हल पेपर और प्रैक्टिस सेट ।
समीक्षा अधिकारी का वेतन
समीक्षा अधिकारी को वेतन के रूप में 9,300-34,800 रुपये प्रति माह प्राप्त होता है |

समीक्षा अधिकारी के कर्तव्य  
1.अनुभाग में प्राप्त होने वाले पत्रों को दैनिकी में अंकित करना, तथा अनुभाग के लिये निर्धारित पंजियों का रख-रखाव करना और कागज पत्रों, पत्रावलियों के संचालन को सही-सही अंकित करना ।

2.निर्गमन के लिये अंकित पत्रों को तत्परता से निर्गत करना ।

3.स्वच्छ प्रतियां तथा विवरण पत्र तैयार करना तथा आवश्यकता पड़ने पर उद्धरण लेना ।

4.प्रतियों का मिलान करने में अन्य सहायकों की सहायता करना ।

5.निर्गत की जाने वाली समस्त डाक को पत्रवाहक-पुस्तिका में अंकित करना तथा पत्रों को वितरित हो जाने के उपरान्त पत्रवाहक पुस्तिका की जांच करना ।

6.निर्गमन से पूर्व पत्रों के सभी संलग्नकों की जांच करना ।


7.अनुभाग को अंकित डाक, पत्रावलियों को प्राप्त करना तथा उन्हें तुरन्त अनुभाग अधिकारी के सम्मुख प्रस्तुत करना ।

8.अपने माध्यम से गुजरने वाली पत्रावलियों तथा अन्य कागज-पत्रों की गोपनीयता बनाये रखना।

9.आवश्यकता पड़ने पर समीक्षा अधिकारियों को पत्रावलियों के रख-रखाव के संबंध में उसके कार्य में सहायता करना ।

10.प्रतीक्षा पंजियों का रख-रखाव करना, संबंधित सहायको को प्रतीक्षा में रखी गयी पत्रावलियों को नियत दिनांक को प्रस्तुत करना ।

11.निक्षेप की गयी पत्रावलियों को छांटना तथा अभिलेख पर्चियों को तैयार करने के लिये उन्हें संबंधित सहायक को प्रस्तुत करना।

12.अन्य विभागों में लम्बित पत्रावलियों के लिये मांग-पत्र तैयार करना ।

मित्रो, यहाँ हमनें आपको समीक्षा अधिकारी बननें के बारे में बताया | यदि इससे सम्बंधित आपके मन में कोई प्रश्न आ रहा है ,तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है | हमें आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया का इंतजार है |

ऐसे ही रोचक न्यूज़ को जानने के लिए हमारें sarkarinaukricareer.in पोर्टल पर लॉगिन करके आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | यदि आपको यह जानकारी  पसंद आयी हो , तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें |


Advertisement


Advertisement