जल्द ही 3 लाख + नौकरियां रिन्यूअल एनर्जी के क्षेत्र में - आप भी जाने - Sarkari Naukri Career

Monday, January 29, 2018

जल्द ही 3 लाख + नौकरियां रिन्यूअल एनर्जी के क्षेत्र में - आप भी जाने

जल्द ही 3 लाख + नौकरियां रिन्यूअल एनर्जी के क्षेत्र में 
भारत विश्व का सबसे बड़ा युवा आबादी वाला देश है | ऐसे में पर्यावरण की सुंदरता और ऊर्जा आपूर्ति को सुनिश्चित करने हेतु ऊर्जा की मांग सबसे अधिक बढ़ रही है | कार्बन उत्सर्जन को कम करने के लिए पारंपरिक ऊर्जा उत्पादन के स्थान पर रिन्यूएबल एनर्जी अर्थात अक्षय उर्जा को वरीयता दी जा रही है।


पिछले कुछ वर्षों में सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने हेतु नए प्रोजेक्ट शुरू किए गए हैं । सरकार ने सौर ऊर्जा उत्पादन को बढ़ाकर 2022 तक 100 गीगावाट करने का लक्ष्य निर्धारित किया है । ऐसे में अक्षय उर्जा के क्षेत्र में रोजगार के अवसरों में वृद्धि होगी । एक रिपोर्ट के अनुसार ,इसमें 2022 तक 3 लाख से अधिक नई नौकरियों की संभावना है ,इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहें है |


रिन्यूएबल एनर्जी की आवश्यकता
देश में स्वच्छ वातावरण उपलब्ध कराने हेतु सरकार द्वारा निरंतर प्रयास किये जा रहें है । ऊर्जा के स्रोतों तथा थर्मल पावर,कोयला से बिजली उत्पादन की अपेक्षा अक्षय ऊर्जा में व्यय कम आता है , इसीलिए भारत सहित अन्य देशों में अक्षय ऊर्जा क्षेत्र में काफी तेज गति से कार्य कर रहें है । काउंसिल ऑन एनर्जी, एनवायरमेंट एंड वॉटर और नेचुरल रिसोर्सेज डिफेंस काउंसिल की स्टडी की रिपोर्ट के अनुसार ,अगले पांच वर्षो में अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में लगभग तीन लाख नयी नौकरियां आने वाली हैं ।

काउंसिल की रिपोर्ट के अनुसार , विंड पावर से 35 हजार 800 जॉब के अवसर प्राप्त होंगे , जबकि जमीन पर लगाए गए सोलर प्रोजेक्ट्स से 78 हजार 800 नौकरियों की डिमांड होगी , इसी प्रकार छतों पर लगे सोलर प्रॉजेक्ट्स से भी दो लाख 98 हजार नौकरियों के अवसर प्राप्त होंगे | रिन्यूएबल एनर्जी इंडिया का सबसे तेजी से विकसित और सबसे ज्यादा नौकरियां देने वाला सेक्टर बनने जा रहा है।


कैसे शुरू करें कैरियर जॉब के अवसर
देश में अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में आत्मनिर्भरता बढ़ाने के लिए व्यापक स्तर पर साइंटिफिक और टेक्निकल पावर की आवश्यकता है | इंजीनियरिंग, टेक्नोलॉजी, साइंसेज और ह्यमेनिटीज आदि स्ट्रीम से आनेवाले छात्रों के लिए एनर्जी कन्जर्वेशन व रिन्यूएबल एनर्जी यूटिलाइजेशन में अवसरों के साथ सोशल एंटरप्रेन्योरशिप, ह्यूमन रिसोर्स और स्वरोजगार में अवसर प्राप्त होता है | रिन्यूएबल एनर्जी और एनर्जी मैनेजमेंट के क्षेत्र में स्किल्ड प्रोफेशनल्स तैयार करने के उद्देश्य से देशभर के विभिन्न आईटीआई और पॉलिटेक्निक में डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स संचालित किये जा रहे हैं |

इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक से बीई या बीटेक कोर्स करने वाले छात्र इस क्षेत्र में अपना करियर बना सकते है | फिजिक्स ,केमिस्ट्री और मैथ के साथ 12वीं की परीक्षा में सम्मिलित होने वाले छात्रों को जेईई मैन में सम्मिलित होना होगा ,इसके स्कोर के आधार पर बीई या बीटेक पाठ्यक्रम में प्रवेश प्राप्त किया जा सकता है | रिन्यूएबल एनर्जी के एम् टेक कोर्स में प्रवेश के लिए छात्रों के पास बीई ,बीटेक या एमएससी की डिग्री होना आवश्यक है |


अक्षय उर्जा है ,करियर हेतु बेहतर विकल्प
अक्षय ऊर्जा में छात्रों को करियर बनाने के लिए एमबीए या पीजीडीएम पाठ्यक्रम करना आवश्यक है | इस पाठ्यक्रम में पचास प्रतिशत अंको से प्रवेश लिया जा सकता है | कैट ,मैत ,सीमेट या एटीएम के वैलिड स्कोर के आधार पर छात्रों को ग्रुप डिस्कशन और पर्सनल इंटरव्यू हेतु बुलाया जाता है |

इस क्षेत्र में करियर की संभावनाएं
इस क्षेत्र में पोस्ट ग्रेजुएशन के पश्चात पावर जनरेशन, डिस्ट्रीब्यूशन और ट्रांसमिशन कंपनियों में रोजगार के अवसर उपलब्ध है | इसके अतिरिक्त एचआर मैनेजमेंट, ऑपरेशन, फाइनेंस, मार्केटिंग तथा स्ट्रैटिजिक मैनेजमेंट जैसे कार्य सम्मिलित हैं ,इसमें प्रोफेशनल्स एनर्जी कॉर्पोरेशन के मैनेजमेंट में बड़ी भूमिका निभाते हैं । इन क्षेत्रो में बड़े पैमाने पर करियर की संभावनाएं उपलब्ध हैं |

वेतनमान
रिन्यूएबल एनर्जी सेक्टर में डिप्लोमा प्राप्त युवाओं को प्रारंभ में 25-30 हजार रुपये प्रतिमाह का वेतन प्राप्त होता है ,लगभग 3 से 4 वर्ष के अनुभव के पश्चात यह सेलरी बढ़ कर 50-55 हजार रुपये प्रतिमाह हो जाती है । कई ऐसे प्रोफेशनल्स हैं, जो इस समय 5-6 लाख रुपये सालाना सेलरी पैकेज प्राप्त कर रहे हैं । अनुभव के आधार पर प्रोफेशनल्स की सेलरी 7 से 8 लाख तक होती है।


शिक्षण संस्थान
1.यूनिवर्सिटी ऑफ लखनऊ, लखनऊ
वेबसाइट- www.lkouniv.ac.in

2.यूनिवर्सिटी ऑफ पुणे, पुणे
वेबसाइट- www.unipune.ac.in

3.आईआईटी दिल्ली, नई दिल्ली
वेबसाइट- www.iitd.ac.in


4.नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, तिरुचिरापल्ली
वेबसाइट- www.nitt.edu

5.राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, भोपाल
वेबसाइट- www.rgpv.ac.in

6.इलाहाबाद एग्रीकल्चर इंस्टीट्यूट (डीम्ड यूनिवर्सिटी), इलाहाबाद
वेबसाइट- www.shiats.edu.in

7.पेट्रोलियम कंजर्वेशन रिसर्च एसोसिएशन, नई दिल्ली
वेबसाइट- www.pcra.org

मित्रों,यहाँ आपको हमनें रिन्यूएबल एनर्जी से सम्बंधित क्षेत्र में करियर बनानें के बारें में बताया | यदि इससे सम्बंधित आपके मन में कोई प्रश्न आ रहा है तो कमेंट बाक्स के माध्यम से व्यक्त कर सकते है | हमें आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया का इंतजार है |

ऐसे ही रोचक न्यूज़ को जानने के लिए हमारें sarkarinaukricareer.in पोर्टल पर लॉगिन करके आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो , तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें |


Advertisement


Advertisement