आधार की हिफाज़त होगी अब वर्चुअल (Virtual) आधार ID से - क्या है ये यहाँ पढ़े पूरी बात

Thursday, January 11, 2018

आधार की हिफाज़त होगी अब वर्चुअल (Virtual) आधार ID से - क्या है ये यहाँ पढ़े पूरी बात

आधार की हिफाज़त होगी अब वर्चुअल (Virtual) आधार ID से - क्या है ये यहाँ पढ़े पूरी बात
भारत में रहने वाले प्रत्येक व्यक्ति के लिए आधार अनिवार्य है | सरकार द्वारा किये जा रहे निरंतर प्रयासों से सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज जैसे बैंक एकाउंट ,पैन कार्ड ,बीमा पालिसी आदि को आधार से लिंक कराया जा रहा है | आधार से लिंक होने के पश्चात ,आधार एक महत्वपूर्ण दस्तावेज बन गया ,आधार की सुरक्षा को देखते हुए सरकार ने एक बड़ा कदम उठाया ,आधार नंबर को सुरक्षित करने के लिए यूआईडीएआई अब आधार नंबर की जगह वर्चुअल आईडी देने की प्रक्रिया जारी की है ,इस प्रक्रिया के बारें  में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहे है |



आधार की सुरक्षा हेतु वर्चुअल आधार आई डी
भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने आधार नंबर को सुरक्षित करने हेतु एक नया तरीका विकसित किया है । यूआईडीएआईए आधार के लिए वर्चुअल आईडी जारी करेगी । केवाईसी के समय उसी आईडी का प्रयोग किया जाएगा । यूआईडीएआईए प्रत्येक आधार कार्ड की एक वर्चुअल आईडी तैयार करने की सुविधा ला रही है । इस सुविधा से आपको अपने आधार डिटेल देने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी, यदि आवश्यकता पड़ती है, तो आपको 12 अंकों के आधार नंबर के स्थान पर 16 नंबर की वर्चुअल आईडी देनी होगी ।

वर्चुअल आईडी की व्यवस्था आने के बाद प्रत्येक एजेंसी आधार वेरीफिकेशन के काम को पेपरलेस तरीके से कर सकेंगी । कोई व्यक्ति आपके आधार नंबर तक नहीं पहुंच सकता, परन्तु इससे जुड़ा प्रत्येक कार्य आसानी से पूरा कर सकेंगे । सभी एजेंसी इस नई व्यवस्था को 1 जून 2018 तक लागू कर देंगी |


स्वयं जनरेट कर सकेंगे वर्चुअल आईडी
इस सुविधा के द्वारा आप स्वयं  अपना वर्चुअल आईडी जनरेट कर सकेंगे, जिसमें आप अपनी इच्छानुसार एक नंबर चयन करने के पश्चात सामने वाली एजेंसी को दे सकते हैं । स्वयं नंबर जनरेट करने की सुविधा का एक लाभ यह होगा कि, आपको यह नंबर आसानी से याद रहेगा और इससे न सिर्फ आपकी आधार डिटेल सुरक्ष‍ित रहेंगी, बल्क‍ि आप अपने मोबाइल नंबर की तरह इस आईडी को भी आसानी से प्रयोग कर सकेंगे ।


यूआईडीएआई सभी एजेंसियों को दो श्रेणियों में विभाजित किया
यूआईडीएआई सभी एजेंसियों को दो श्रेणियों में विभाजित किया है, इसमें एक स्थानीय और दूसरी वैश्व‍िक श्रेणी होगी । एजेंसियों को उनके काम के हिसाब से इन श्रेणियों में सम्मिलित किया जाएगा । जानकर सूत्रों के अनुसार ,यूआईडीएआईए प्रत्येक आधार नंबर के लिए एक टोकन जारी करेगी |

मित्रों, यहाँ हमनें आपको आधार को सुरक्षित करने हेतु वर्चुअल आईडी के बारें में बताया | यदि इससे सम्बंधित आपके मन में कोई प्रश्न आ रहा है तो कमेंट बाक्स के माध्यम से व्यक्त कर सकते है | हमें आपके द्वारा की गई प्रतिक्रिया का इंतजार है |

ऐसे ही रोचक न्यूज़ को जानने के लिए हमारें sarkarinaukricareer.in पोर्टल पर लॉगिन करके आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | यदि आपको यह जानकारी  पसंद आयी हो , तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें |


Advertisement


Advertisement


No comments:

Post a Comment

If you have any query, Write in Comment Box