Feb 26, 2018

अगले साल से बच्चो के बस्ते का बोझ होगा कम - क्यों जाने यहाँ

अगले साल से बच्चो के बस्ते का बोझ होगा कम
केंद्र सरकार द्वारा शिक्षा स्तर में सुधार के लिए निरंतर प्रयास किये जा रहें है, अपने इन्ही प्रयासों के अंतर्गत केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने 2019 के शैक्षणिक सत्र से एनसीईआरटी के पाठ्यक्रम को घटाकर आधा कर दिए जाने की घोषणा की है| 

उन्होंने कहा कि, स्कूल का पाठ्यक्रम बीए और बीकॉम के कोर्स से भी अधिक है, और इसे कम करके आधा किए जाने की आवश्यकता है, जिससे छात्रों के सर्वांगीण विकास के लिए छात्रों को उचित समय मिल सके, इसके बारें में आपको इस पेज विस्तार से बता रहें है |


एनसीईआरटी के पाठ्यक्रम में संशोधन
शिक्षा के गिरते हए स्तर को बेहतर बनानें के लिए मानव संसाधन एवं विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने एनसीईआरटी स्कूल सिलेबस 2019 के सत्र से आधा कर दिया जाएगा, सूत्रों के अनुसार, कक्षा 1 से 12 तक के छात्रों के लिए यह पाठ्यक्रम  कम किए जाने की बात चल रही है| 

केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘संज्ञानात्मक कौशल के विकास के स्तर पर छात्रों को पूरी आजादी दिए जाने की आवश्यकता है, और परीक्षा के बगैर कोई प्रतियोगिता और लक्ष्य नहीं होगा, अच्छे परिणाम  के लिए प्रतियोगिता की भावना का होना बेहद जरूरी है ।  

जावड़ेकर ने टीचर्स की खराब गुणवत्ता पर भी चिंता जताई उन्होंने कहा, कि 2015 तक राइट टु ऐजुकेशन ऐक्ट के अंतर्गत  20 लाख टीचर्स को ट्रेंड किया जाना था, लेकिन 5 लाख ही कवर किए जा सके ।


छात्र को परीक्षा पास करने के मिलेंगे दो अवसर
एक इंटरव्यू के दौरान मानव संसाधन एवं विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, कि जीवन में बिना परीक्षा के कोई लक्ष्य नहीं रहता, ऐसे में बेहतर नतीजों के लिए कॉम्पिटिशन का होना जरूरी है । 

प्रकाश जावड़ेकर की यह  बात उस दिशा में थी, कि फेल होने पर भी छात्रों को अगली क्लास में प्रमोट कर दिया जाता है, इस बात को लेकर उन्होंने कहा, कि यदि  कोई छात्र मार्च में फेल होता है, तो उसे मई में एक और अवसर  दिया जाएगा, दो अवसर देने के पश्चात यदि  अगर छात्र फेल हो जाता है, तो उसे उसी कक्षा में रोक लिया जाएगा ।


यहाँ आपको हमनें एनसीईआरटी के पाठ्यक्रम को घटाकर आधा कर दिए जाने के बारें  में बताया | यदि इससे सम्बंधित आपके मन में कोई प्रश्न आ रहा है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से व्यक्त कर सकते है | हमें आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया का इंतजार है |

ऐसे ही जानकारी जानने के लिए हमारें पोर्टल पर आप डेली विजिट करके इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा sarkarinaukricareer.in पोर्टल को सब्सक्राइब करें |



Advertisement