Wednesday, March 21, 2018

UGC ने बनाया JNU, BHU सहित 60 शिक्षण संस्थाओं को स्वायत्त- आप भी पढ़े

UGC ने बनाया JNU, BHU सहित 60 शिक्षण संस्थाओं को स्वायत्त
यूजीसी ने जेएनयू और बीएचयू सहित देश के 60 उच्च शिक्षा संस्थानों को स्वायत्तता प्रदान की है,  अब इन विश्वविद्यालयों को अपने निर्णय स्वयं लेने की आजादी होगी, सरकार ने यह निर्णय, इन विश्वविद्यालयों को शिक्षा के क्षेत्र में निरंतर अच्छे प्रदर्शन के कारण से लिया है, केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के अनुसार, इन संस्थानों को यूजीसी पर निर्भर रहने की आवश्यकता नहीं है, इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहें है |


नैक से ग्रेड प्राप्त करनें वाले संस्थानों को मिला अधिकार
भारतीय प्रबंधन संस्थानों को कानून बनाकर पूर्ण स्वायत्तता देने के पश्चात,  अब उन उच्च शिक्षा संस्थानों को स्वायत्तता दी गई है, जिन्हें राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद अर्थात नैक ने 3.26 से अधिक ग्रेड दिया है,  इसमें जेएनयू और बीएचयू सहित  5 केंद्रीय विश्वविद्यालय, 21 राज्य विश्वविद्यालय, 24 डीम्ड विश्वविद्यालय, दो निजी विश्वविद्यालय और आठ कॉलेज के नाम शामिल हैं,  इन संस्थानों को स्वयं निर्णय लेने की आजादी दी गई है, वहीं गुणवत्ता के आधार पर सही न उतरने वाले तीन डीम्ड विश्वविद्यालयों को नोटिस जारी किया गया है ।


स्वयं निश्चित कर सकेंगे शुल्क
मानव संसाधन मंत्री के अनुसार, स्वायत्तता प्रदान करने के बाद भी यह सभी संस्थान यूजीसी के परिधि में ही रहेंगे, परन्तु  इन्हें आवश्यकता के अनुसार नए पाठ्यक्रम  शुरु करने, फीस निश्चित करने और कैंपस खोलने जैसे कई निर्णयों के लिए यूजीसी से स्वीकृति लेने की आवश्यकता नहीं है |

 इन संस्थानों को प्राप्त हुई स्वायत्तता
केंद्रीय विश्वविद्यालयों में बनारस हिंदू विश्वविद्यालय, वाराणसी , जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय (नई दिल्ली), यूनिवर्सिटी ऑफ हैदराबाद, अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय को सम्मिलित किया गया है, वहीं राज्य विश्वविद्यालयों में कोलकाता के जाधवपुर विश्वविद्यालय, तमिलनाडु के अलगप्पा विश्वविद्यालय, दिल्ली के नेशनल लॉ विश्वविद्यालय सहित  21 विश्वविद्यालय शामिल हैं, इसके अतिरिक्त निजी विश्वविद्यालयों में सोनीपत के ओपी जिंदल विश्वविद्यालय, गुजरात के पंडित दीन दयाल पेट्रोलियम विश्वविद्यालय को सम्मिलित किया गया है |


यहाँ आपको हमनें यूजीसी द्वारा  60 उच्च शिक्षा संस्थानों को स्वायत्तता दिए जाने के बारें में बताया | यदि इससे सम्बंधित आपके मन में कोई प्रश्न आ रहा है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से व्यक्त कर सकते है | हमें आपके द्वारा की गई प्रतिक्रिया का इंतजार है |

ऐसे ही जानकारी जानने के लिए हमारें पोर्टल पर आप डेली विजिट करके इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा sarkarinaukricareer.in पोर्टल को सब्सक्राइब करें |



Advertisement


Advertisement