Saturday, March 17, 2018

IRS (Indian Revenue Service) Officer कैसे बने - योग्यता, सैलरी व आवेदन कैसे करे

IRS (Indian Revenue Service) Officer कैसे बने 
आईआरएस पद सिविल सेवा अधिकारियों में से एक सम्मानित है, आईआरएस संग्रह अधिकारियों, प्रशासन और नीति निर्माण प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष कर जैसे- केंद्रीय उत्पाद शुल्क, सेवा कर और सीमा शुल्क आदि करों का ब्यौरा रखते हैं, वह केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड और केंद्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क बोर्ड वित्त मंत्रालय के आधीन राजस्व विभाग के अंतर्गत कार्य करते हैं,आप एक आईआरएस अधिकारी कैसे बन सकते है,इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहें है |


आईआरएस IRS अधिकारी कैसे बनें
आईएएस, आईपीएस और आईएफएस के बाद आईआरएस अधिकारी सिविल सेवा का चौथा सबसे सम्मानित पद है, आईआरएस एक केंद्रीय सिविल सेवा है, जो केन्द्रीय वित्त मंत्रालय में राजस्व विभाग के अंतर्गत कार्य करती है, और विभिन्न प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष करों के संग्रह और प्रबंधन से संबंधित है, आईआरएस अधिकारी सरकार के करों के माध्यम से राजस्व के समुचित संग्रह पर जाँच करने के लिए जिम्मेदार होते है |


शैक्षिक योग्यता
प्रत्येक वर्ष सिविल सर्विस की परीक्षा यूपीएससी के माध्यम से कंडक्ट की जाती है, एक आईआरएस अधिकारी बनने के लिए अभ्यर्थी को किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक या समकक्ष होना आवश्यक है  । स्नातक डिग्री पाठ्यक्रम के अंतिम वर्ष के अभ्यर्थी को प्रारंभिक परीक्षा में बैठने का अवसर दिया जाता है ।


आयु मापदंड
अभ्यर्थी को परीक्षा में सम्मिलित होने वाले वर्ष में 1 अगस्त को 21वर्ष की आयु होना चाहिए, तथा उस तिथि पर आयु  30 वर्ष  से अधिक नहीं होना चाहिए, ओबीसी के लिए 3 वर्ष और अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के अभ्यर्थियों के लिए 5  वर्ष की छूट का प्रावधान है ।

एक आईआरएस IRS अधिकारी बनने हेतु
एक आईआरएस अधिकारी बनने हेतु निम्न चरणों का पालन करना होता है |

प्रथम चरण
प्रथम चरण के रूप में अभ्यर्थी को पोस्ट ऑफिस या किसी भी सूचना पत्रिका के साथ आवेदन पत्र लेना होगा और इसे भरकर इस पते पर भेजना होगा |

सचिव,
संघ लोक सेवा आयोग,
धौलपुर हाउस,
नई दिल्ली – 110011।
या ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते हैं ।


द्वितीय चरण ( प्रारंभिक परीक्षा से सम्बंधित पाठ्यक्रम )
क्रम स० विषय अंक समय
1. सामान्य ज्ञान 200 2 घंटे
2. समझ और तार्किक तर्क 200 2 घंटे

इस परीक्षा का आयोजन मई या जून के माह में किया जाता है, तथा यह परीक्षा अंतिम परीक्षा के लिए सिर्फ एक योग्यता परीक्षा है |

3.तृतीय चरण
इस चरण के अंतर्गत प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण छात्रों को सम्मिलित किया जाता है, तथा इस पअरिक्षा का आयोजन मुख्यतः अक्टूबर माह में किया जाता है |

क्रम स० विषय अंक
1. 1 निबंध प्रकार का भारतीय भाषा योग्यता पेपर  300
2. 1अंग्रेजी योग्यता 300
3. 1 सामान्य निबंध 200
4. 2 सामान्य अध्ययन पत्र 300 ( प्रति प्रश्न पत्र 300 अंक )
5. 4 वैकल्पिक विषयों पर 300 ( प्रति प्रश्न पत्र 300 अंक )


4.चतुर्थ चरण ( साक्षात्कार )
परीक्षा का अंतिम चरण साक्षात्कार का होता है, इसमें अभ्यर्थी के साक्षात्कार के दौरान उनके व्यक्तित्व और मानसिक क्षमता का परीक्षण किया जाता है, इसके पश्चात सफल अभ्यर्थियों की अंतिम सूची तैयार की जाती है,सूची के अनुसार, अच्छा रैंक प्राप्त करने वाले अभ्यर्थियों का चयन किया जाता है,इसके पश्चात चयन किये गए आईआरएस अधिकारी प्रशिक्षुओं को 3 महीने की मूलभूत प्रशिक्षण दिया जाता है ।

आईआरएस अधिकारी का वेतन
भारत सरकार ने आईआरएस अधिकारियों के लिए वेतन ग्रेड निश्चित कर रखा है, जो नए वेतन के साथ बदलते रहते हैं, यद्यपि उन्हें लगभग 90,000 प्रतिमाह और भत्ता आदि प्राप्त होता है |

यहाँ आपको हमनें आईआरएस अधिकारी बननें के बारे में बताया | यदि इससे सम्बंधित आपके मन में कोई प्रश्न आ रहा है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से व्यक्त कर सकते है | हमें आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया का इंतजार है |

ऐसे ही जानकारी जानने के लिए हमारें पोर्टल पर आप डेली विजिट करके इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा sarkarinaukricareer.in पोर्टल को सब्सक्राइब करें |

Advertisement


Advertisement