1076 उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री हेल्पलाइन नंबर - घर बैठे हर समस्या का समाधान - Sarkari Naukri Career

Wednesday, January 31, 2018

1076 उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री हेल्पलाइन नंबर - घर बैठे हर समस्या का समाधान

1076 उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री हेल्पलाइन नंबर
आम लोगो की शिकायतों के निस्तारण हेतु सरकार द्वारा शिकायत निवारण प्रणाली विकसित की गयी है | इस शिकायत प्रणाली से आम लोगों को घर बैठे फोन से शिकायत कर सकेंगे |  लोगो को शिकायत करने के लिए ‘सीएम हेल्पलाइन नंबर 1076  डायल करना होगा | यह हेल्पलाइन मौजूदा शिकायत निवारण प्रणाली की अपेक्षा अनेक खूबियों से लैस है । इस पर सभी शिकायतकर्ताओं से उनकी शिकायतों पर कार्रवाई का फीडबैक लिया जायेगा । 
इसके आधार पर ही शिकायत खत्म करने या आगे बढ़ाने की कार्रवाई तय होगी | इस सुविधा का शुभारम्भ शीघ्र ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा किया जायेगा । हाल ही में प्रारंभ होने वाली इस सुविधा के बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहें है |
हेल्पलाइन न० 1076 से होगा प्रत्येक समस्या का समाधान 
अनेक प्रकार की शिकायतों के निस्तारण हेतु लोगो को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है ,कभी –कभी उच्च स्तर के अधिकारियों तक अपनी शिकायत पहचानें  में आम जनता का धन ,समय दोनों व्यय होते है ,इसके पश्चात भी वह अपनी शिकायत अधिकारियों तक नहीं पंहुचा पाते | जिसे देखते हुए मुख्यमंत्री जी ने आम जनता के लिए हेल्पलाइन न० 1076 जारी किया है | आम जनता अब मुख्यमंत्री जी से अपनी शिकायत सीधे रूप से कर सकेंगे । इसके लिये शिकायतकर्ता को सीएम से मिलने अर्थात लखनऊ जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी ।

मुख्यमंत्री हेल्पलाइन के टोल फ्री नंबर 1076 पर किसी भी व्यक्ति द्वारा फोन कर शिकायत अंकित करा सकता है । इस शिकायत को लखनऊ में बने काल सेंटर से संबंधित अफसरों के पास भेज दी जाएगी । इमरजेंसी होने पर कॉल सीधे संबंधित विभाग के अधिकारी के मोबाइल फोन से जोड़ दी जाएगी । 
शिकायत का लेवल वन के अधिकारियों को 15 दिन में निस्तारण करना होगा , यदि लेवल वन पर समस्या का निस्तारण नहीं हो पाता है ,तो कॉल सेंटर से उसे विभाग के जिला स्तरीय अधिकारी को भेजा जाएगा । उन्हें एक सप्ताह में इसका निस्तारण कराना होगा , यदि वह भी इसका निस्तारण नहीं कर पाते हैं ,तो विभाग के मंडलीय अधिकारी को निस्तारण के लिए भेजा जाएगा । इन्हें तीन दिन में इसका निस्तारण करना होगा। अफसरों के निस्तारण के बाद शासन स्तर से क्रॉस चेकिंग की जाएगी । शिकायतकर्ता के संतुष्ट होने पर ही मामले का पूरा निस्तारण माना जाएगा |
एक शिफ्ट में 500 कर्मचारी
इस हेल्पलाइन का कॉलसेंटर गोमती नगर में स्थापित किया गया है । इसमें प्रतिदिन तीन शिफ्ट में संचालित किया जायेगा ,और शिफ्ट में 500 कर्मचारी शिकायतें सुनने हेतु उपस्थिति रहेंगे । कॉल सेंटर के लिए 1300 कर्मचारियों को प्रशिक्षित किया गया है।
लखनऊ बनेगा आइटी हब
सरकार द्वारा राजधानी लखनऊ को आईटी हब बनाने की दिशा में प्रयासरत  है । इसके लिए सरकार ने आईटी और इलेक्ट्रॉनिक्स के क्षेत्र में निवेश पर अनेक सुविधाएं प्रदान कर रही है |  राजधानी में एचसीएल ने आईटी सिटी स्थापित की है । इस 100 एकड़ जमीन में बन रहे आईटी सिटी में वर्तमान में  लगभग 2500 कर्मचारी कार्य कर रहे है | 
इसके पूर्णरूप से निर्मित हो जाने पर इसमें लगभग 75000 कर्मचारियों के कार्य करने की संभावना है | हाल ही में प्रदेश में दो हजार स्टार्ट अप्स की शुरुआत हुई है ,जिसके लिए सरकार द्वारा 1000 करोड़ का फण्ड देने की घोषणा की है |
एसटीपीआई का निर्माण
इंजीनियरिंग कॉलेजों से प्रति वर्ष निकलने वाले युवाओं को रोजगार प्राप्त करने हेतु उत्तर प्रदेश के साथ जिलो में एसटीपीआई बनानें की शुरुआत की जाएगी | इन शहरों में मेरठ, आगरा, गोरखपुर, लखनऊ, वाराणसी, कानपुर और बरेली है | योजना के अनुसार बरेली में में सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क ऑफ इंडिया (एसटीपीआई) बनाने की शुरुआत की गई है। मेरठ, आगरा और गोरखपुर में कार्य प्रारंभ किया जा चुका है , जबकि लखनऊ, कानपुर और बरेली में निर्माण हेतु जमीन उपलब्ध हो चुकी है ।
निवेश से प्राप्त होगी हजारों करोड़ की राशि
संजीव सरन के अनुसार , बीते तीन वर्षों में देश में लगभग 107 नई इलेक्ट्रॉनिक्स और मोबाइल कंपनियां ने अपना कार्य भारत में प्रारंभ किया है | इनमें से 47 कंपनियां उत्तर प्रदेश में आई हैं । हाल ही में डिक्सन कंपनी ने पांच सौ करोड़ के निवेश का प्रस्ताव दिया है ,इसी प्रकार अनेक कंपनियां भारत में अपना कार्य प्रारंभ करना चाहती है ,जिससे देश को हजारो करोड़ का निवेश प्राप्त होगा |
मित्रों,यहाँ हमनें आपको शिकायतों के निस्तारण हेतु हाल ही में प्रारंभ होने वाले हेल्पलाइन न० 1076 के बारें  में बताया | यदि इससे सम्बंधित आपके मन में कोई प्रश्न आ रहा है ,तो कमेंट बाक्स के माध्यम से व्यक्त कर सकते है | हमें आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया का इंतजार है |
ऐसे ही रोचक न्यूज़ को जानने के लिए हमारें sarkarinaukricareer.in पोर्टल पर लॉगिन करके आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | यदि आपको यह जानकारी  पसंद आयी हो , तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें |

Advertisement


Advertisement