Tuesday, August 14, 2018

भारतीय स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) की कुछ अनोखी बातें (हिंदी में)

भारतीय स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) की कुछ अनोखी बातें 
भारत में प्रत्येक वर्ष 15 अगस्त को स्वन्त्रता दिवस के रुप में मनाया जाता है, हम सभी के लिए यह दिन बहुत ही महत्वपूर्ण है, इसी दिन भारत के लाखों लोगों के बलिदान का फल हमे स्वन्त्रता के रूप में प्राप्त हुआ था, इसे प्राप्त करनें के लिए हमारे कई साथियों को अंग्रेजों द्वारा फांसी की सजा दे दी गयी थी, उन्होंने अपना बलिदान हम लोगों स्वतंत्र वातावरण प्रदान करने के लिए किया, आज हम इस पेज पर भारतीय स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) की कुछ विशेष बातों की जानकारी विस्तार से प्रदान कर रहे है |



भारत का 72वां स्वतंत्रता दिवस
आज हम भारत का 72वां स्वतंत्रता दिवस मना रहे है, इसलिए हमे अपनी स्वतंत्रता से जुड़ी हुई कुछ विशेष बातों की जानकारी होना आवश्यक है, हमको यह आजादी 15 अगस्त 1947 को भारत के दो टुकड़ों के रूप में मिली एक भारत और दूसरा पाकिस्तान इसका दुःख प्रत्येक स्वतंत्रता सेनानी को था, भारत के लोग कुछ समझ नहीं पा रहे थे की वह खुशी मनाये या गम एक तरफ अंग्रेज भारत छोड़कर जा रहे थे, तो दूसरी तरफ सम्पूर्ण देश में सांप्रदायिक दंगे हो रहे थे, जिसके कारण कई लोग भारत आना चाहते थे और कई लोग भारत से जाना चाहते थे, जिसमे लाखों लोगों की मृत्यु हो गई, इस प्रकार से हम लोग आजाद तो हो गए परन्तु दो देश के रूप में |


महत्वपूर्ण जानकारी
1.जब हमारा देश स्वतंत्र हो रहा था, उस समय महात्मा गांधी दिल्ली से हज़ारों किलोमीटर दूर बंगाल के नोआखली में थे, उस स्थान पर वह हिन्दू और मुस्लिम के मध्य हो रही सांप्रदायिक हिंसा को रोकने का प्रयास कर रहे थे, गाँधी जी इसके लिए अनशन कर रहे थे |

2.अंग्रेजों ने भारत को 15 अगस्त 1947 को आजाद करने की तिथि निर्धारित की तब पंडित जवाहर लाल नेहरू और सरदार वल्लभ भाई पटेल ने महात्मा गांधी को पत्र भेजा, जिसमे उन्होंने अनुरोध किया कि  "15 अगस्त हमारा पहला स्वाधीनता दिवस होगा. आप राष्ट्रपिता हैं, इसमें शामिल हो अपना आशीर्वाद दें |

3.गांधी जी ने इस पत्र का जवाब भिजवाया, "जब कलकत्ते में हिंदु-मुस्लिम एक दूसरे की जान ले रहे हैं, ऐसे में मैं जश्न मनाने के लिए कैसे आ सकता हूं, मैं दंगा रोकने के लिए अपनी जान दे दूंगा" |

4.पंडित जवाहर लाल नेहरू ने 14 अगस्त की मध्यरात्रि को अपना ऐतिहासिक भाषण 'ट्रिस्ट विद डेस्टनी' को वायसराय लॉज (मौजूदा राष्ट्रपति भवन) से दिया था, उस समय पंडित जवाहर लाल नेहरू प्रधानमंत्री नहीं थे, इस भाषण को पूरे विश्व ने सुना, परन्तु गांधी जी उस दिन रात के नौ बजे सोने चले गए थे |

5.लॉर्ड माउंटबेटन ने 15 अगस्त, 1947 को अपने दफ़्तर में कार्य किया, दोपहर के समय में जवाहर लाल नेहरू ने उन्हें अपने मंत्रिमंडल की सूची सौंपी इसके बाद उन्होंने इंडिया गेट के पास प्रिसेंज गार्डेन में एक सभा को संबोधित किया |

6.प्रत्येक वर्ष को भारतीय प्रधानमंत्री लाल किले पर ध्वजारोहण करते है, परन्तु 15 अगस्त, 1947 को ऐसा नहीं हो पाया था, लोकसभा सचिवालय के एक शोध पत्र के अनुसार नेहरू जी ने 16 अगस्त, 1947 को लाल किले पर ध्वजारोहण किया था |


7.भारत के तत्कालीन वायसराय लॉर्ड माउंटबेटन के प्रेस सचिव कैंपबेल जॉनसन के अनुसार 15 अगस्त, 1947 को मित्र देश की सेना के समक्ष जापान के समर्पण की दूसरी वर्षगांठ थी, इसलिए इसी दिन भारत को आज़ाद करने का फ़ैसला हुआ |

8.भारत और पाकिस्तान के मध्य 15 अगस्त तक सीमा रेखा का निर्धारण नहीं हुआ था, इसका निर्णय 17 अगस्त को रेडक्लिफ लाइन की घोषणा के पश्चात हुआ |

9.भारत 15 अगस्त को स्वतंत्र हो गया था परन्तु उसका अभी तक कोई राष्ट्र गान निश्चित नहीं हो पाया था, भारत का राष्ट्रगान रवींद्रनाथ टैगोर द्वारा लिखित वर्ष 1911 की पुस्तक से लिया गया, जन-गण-मन राष्ट्रगान को वर्ष 1950 में अपनाया गया |

10.भारत के अतिरिक्त तीन अन्य देशों का स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त है, दक्षिण कोरिया जापान से 15 अगस्त, 1945 को आज़ाद हुआ, ब्रिटेन से बहरीन 15 अगस्त, 1971 को और फ्रांस से कांगो 15 अगस्त, 1960 को आज़ाद हुआ |

यहाँ पर हमनें भारतीय स्वतंत्रता दिवस के विषय में जानकारी उपलब्ध करायी, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहें है |

हमारें पोर्टल sarkarinaukricareer.in के माध्यम से आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | हमारे पोर्टल पर आपको करंट अफेयर्स, डेली न्यूज़,आर्टिकल तथा प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित लेटेस्ट जानकारी प्राप्त कर सकते है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा पोर्टल को सब्सक्राइब करना ना भूले |

Read: रेलवे सुरक्षा बल में 10,000 भर्ती का नया विज्ञापन - 50% आरक्षण महिलाओं के लिए

Advertisement


Advertisement


No comments:

Post a Comment

If you have any query, Write in Comment Box