आईएएस के कितने पद हैं खाली देश भर में - जाने अभी

Friday, February 16, 2018

आईएएस के कितने पद हैं खाली देश भर में - जाने अभी


आईएएस के कितने पद हैं खाली देश भर में 
हमारे देश के करोड़ो युवा आईएएस बननें का सपना देखते हैं, परन्तु यह पद सभी को प्राप्त नहीं होता ,क्योंकि अथक मेहनत करने के पश्चात ही छात्र इस उच्च पद को प्राप्त कर पाते है | हाल ही में प्राप्त जानकारी के अनुसार, हमारे देश में, आने वाले दो या तीन वर्षों में देश में आईएएस अधिकारियों की संख्या में भारी कमीं होने वाली है, जबकि देश में पहले से लगभग 1500 पर रिक्त है, इस विषय पर यहाँ  विस्तार से जानकारी दे रहे है I



देश में आईएएस के रिक्त पद
भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों की खाली पदों की संख्या रिपोर्ट के अनुसार चिंताजनक है, प्राप्त जानकारी के अनुसार, देश में लगभग 1500 से अधिक पद रिक्त है, वर्ष 2010 से 2019 के मध्य प्रत्येक वर्ष 180 नए आईएएस अधिकारियों का चयन करने की योजना बनायीं गयी थी,और यह अनुमान लगाया गया था, कि वर्ष 2020 तक अधिकारियों की कमी को 500 से कम कर दिया जायेगा |

Read: Salary of IAS Officer

सबसे अहम् बात यह है, कि इन वर्षों में आईएएस अधिकारियों की संख्या बढ़ाने के लिए और इनकी भर्ती के लिए विशेष अभियान चलाया गया था, जिसके अनुरूप अभी तक देश में आईएएस अधिकारियों की कमीं को पूरा नहीं किया जा सका | देश में आईएएस अधिकारियों की कमीं का कारण, अधिकारियों द्वारा सेवा के दौरान बीच में ही VRS लेना,नौकरी छोड़ने या नौकरी से निकला जाना है |


क्रम स० पदनाम रिक्त पद
1. आईएएस के कुल आवंटित पद 6,500
2. अभी कुल आईएएस की संख्या 4,990
3. कुल खाली पदों की संख्या 1,510




 पदों में वृद्धि प्रक्रिया 
वर्तमान में लगातार आईएएस पदों में कमी आने और बसावन समिति की पहल से आईएएस अधिकारियों की नियुक्तियों से कोई प्रभाव नहीं पड़ा,  जिसके चलते सरकार ने आगे आकर आईएएस पदों की भर्तियों का भर उठाया है, जबकि बसावन कमेटी ने प्रत्येक वर्ष 70 आईएएस पदों की भर्तियों का निर्णय लिया था | ऐसा माना जा रहा है, कि सरकार द्वारा उठाए गए कदम से अधिकारियों के पदों में वृद्धि से उसकी गुणवत्ता में कमी हो सकती है | 



 इन विकल्पों पर हो सकता है विचार
1.अधिकारियों द्वारा पद छोड़ने या वीआरएस लेने की प्रक्रिया को जटिल बनाया जाये,क्योंकि प्राप्त आंकड़ों के अनुसार,पिछले 7 वर्षों में 300 से अधिक अधिकारियों ने समय से पहले अपने पद से निर्वहन छोड़ दिया ।

2.लेटरल एंट्री से चुनिंदा क्षेत्रों में उससे संबंधित एक्सपर्ट की सेवा ली जाए, इस बारे में संसदीय समिति भी अपनी अनुशंसा दे चुकी है ।

3.राज्यों में प्रशासनिक अधिकारियों का आईएएस में हिस्सा बढ़ाकर उन्हें ज्यादा प्रमोशन दिया जाए, हालांकि, इस प्रस्ताव पर ब्यूरोक्रेसी में मतभेद है।

3.आईएएस अधिकारियों के पदों को बढ़ाने के इस अभियान को वर्ष 2019 से अगले 7 और वर्षों के लिए जारी रखा जाए ।


मित्रों, यहाँ आपको हमनें देश में आईएएस के रिक्त पदों के बारें में बताया | यदि इससे सम्बंधित आपके मन में कोई प्रश्न आ रहा है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से व्यक्त कर सकते है | हमें आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया का इंतजार है |

ऐसे ही जानकारी  जानने के लिए हमारें पोर्टल पर आप डेली विजिट करके इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा sarkarinaukricareer.in पोर्टल को सब्सक्राइब करें |


Advertisement


Advertisement