Thursday, April 19, 2018

‘स्टडी इन इंडिया’ योजना के तहत 160 संस्थानों में विदेशी छात्रों को पढ़ाई का मौका- जाने पूरी न्यूज़


‘स्टडी इन इंडिया’ योजना के तहत 160 संस्थानों में विदेशी छात्रों को पढ़ाई का मौका
भारत में पढ़ाई करनें की इच्छा रखने वाले विदेशी छात्रों को अब भारतीय विश्वविद्यालयों में आसानी से प्रवेश प्राप्त कर सकते है, हाल ही में मानव संसाधन विकास मंत्रालय और विदेश मंत्रालय नें मिलकर स्टडी इन इंडिया कार्यक्रम की शुरुआत की, जिसके अंतर्गत, आईआईटी और आईआईएम तथा भारत  के 160 प्रीमियर शिक्षा संस्थानों में विदेशी छात्रों को प्रवेश प्राप्त करना आसान हो जाएगा, और विदेशी छात्र भारत के शिक्षण संस्थानों से शिक्षा ग्रहण कर सकेंगे, इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहें है |


‘स्टडी इन इंडिया’ योजना
स्टडी इन इंडिया कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य विदेशी छात्रों को भारत के शिक्षण संस्थानों से शिक्षा देना है, सरकार नें उच्च शिक्षा में 10 से 15 प्रतिशत सीटें विदेशी छात्रों के लिए रखने की अनुमति दी है, परन्तु  इन सीटों में अधिकांश सीटें खाली रह जाती हैं, क्योंकि विदेशी छात्रों के लिए अलग-अलग संस्थाओं से संपर्क करके एडमिशन लेना मुश्किल हो जाता है |


इस कार्यक्रम की शुरुआत होने से विदेशी छात्र किसी भी संस्थान में एडमिशन के लिए आवेदन कर सकते है, और उनकी योग्यता के आधार पर उन्हें किसी भी विश्वविद्यालय में प्रवेश मिल सकेगा, इस कार्यक्रम को बढ़ाने के लिए सरकार नें दो वर्ष में 150 करोड़ रुपए खर्च करनें की योजना बनायीं है, जिससे शिक्षा के क्षेत्र में भारत की विश्व में एक अलग पहचान बन सके | 


कार्यक्रम में तीस देशो के प्रतिनिधि हुए सम्मिलित
स्टडी इन इंडिया कार्यक्रम की शुरुआत इंडिया हेबिटेट सेंटर में हुई, जिसमें लगभग तीस देशों के प्रतिनिधि सम्मिलित हुए । केंद्रीय मंत्री सुषमा नें कहा, कि विदेशी छात्रों के लिए भारत नें विश्व की तीसरी सबसे बड़ी उच्च शिक्षा व्यवस्था को खोल दिया है, भारत में विश्व स्तर की उच्च शिक्षा के जितने लाभ उपलब्ध है, वह विश्व के किसी भी देश में नहीं है |

उच्च शिक्षा सचिव आर सुब्रमण्यम के अनुसार, शिक्षण शुल्क को तीन वर्गों में विभाजित किया गया है, जिसमें 25 फीसदी छात्रों की पचास फीसदी फीस तथा अन्य 25 की 75 फीसदी फीस माफ कर दी जाएगी, विदेशी छात्रों को भारत में पढ़ने के लिए सरकार टॉप 25 प्रतिशत मेधावी छात्रों की फीस पूरी तरह से माफ कर देगी, विदेशी छात्रों के भारत में आकर पढ़ाई करने के लिए सरकार इन छात्रों के लिए वीजा नियमों में छूट दी जाएगी |


भारत में विदेशी छात्रों की संख्या
भारत में लगभग 47000 विदेशी छात्र पढ़ाई करते हैं, इनमें से अधिकांश छात्र अफ्रीकी देशों के अतिरिक्त अफगानिस्तान, नेपाल, श्रीलंका और बांग्लादेश जैसे देशों से हैं, इस कार्यक्रम के अंतर्गत एशिया, अफ्रीका के 30 देशों से छात्रों को भारत आने के लिए प्रोत्साहित करेगी, जिसमें नेपाल, वियतनाम, कजाकिस्तान, सऊदी अरेबिया, बांग्लादेश, भूटान,  नाइजीरिया, थाईलैंड, मलेशिया, इजिप्ट, कुवैत, ईरान, श्रीलंका, रवांडा जैसे देश शामिल हैं |


यहाँ आपको हमनें स्टडी इन इंडिया योजना के बारें में बताया | यदि इससे सम्बंधित आपके मन में कोई प्रश्न आ रहा है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से व्यक्त कर सकते है | हमें आपके द्वारा की गई प्रतिक्रिया का इंतजार है |

ऐसे ही जानकारी जानने के लिए हमारें पोर्टल पर आप डेली विजिट करके इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा sarkarinaukricareer.in पोर्टल को सब्सक्राइब करें |

Read: ये है भारत के शिक्षण संस्थानों की इस साल की रैंकिंग

Advertisement


Advertisement