Friday, October 26, 2018

सरकारी नौकरी के लिए डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन में कौन - कौन से डॉक्यूमेंट ज़रूरी है

सरकारी नौकरी में वेरिफिकेशन लिए ज़रूरी डॉक्यूमेंटस 

सरकारी नौकरी प्राप्त करने में डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन एक प्रक्रिया है, इसके अंतर्गत आपके सभी डॉक्यूमेंट की जाँच की जाती है, जिससे यह पूर्ण ज्ञान हो सके की अभ्यर्थी योग्य है, अथवा नहीं है | इस प्रक्रिया से पूर्व लिखित परीक्षा और साक्षात्कार के चरण संपन्न हो जाते है | डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन चयन प्रक्रिया का तीसरा चरण होता है | इस चरण में जिन डॉक्यूमेंट अर्थात शैक्षिक दस्तावेज की जाँच की है, उसकी सही जानकारी न होनें के कारण कभी-कभी अभ्यर्थियों को चयन प्रक्रिया से बाहर कर दिया जाता है | सरकारी नौकरी में डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन में कौन-कौन से डॉक्यूमेंट जरुरी है, इसके बारे में आपको इस पेज पर विस्तार से जानकारी दे रहे है |


डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन प्रक्रिया
डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन प्रक्रिया के अंतर्गत चयनित छात्रों के प्रमाण पत्र का सत्यापन किया जाता है, इस सत्यापन के बाद ही चयन प्रक्रिया को पूर्ण माना जाता है | सत्यापन में आपके सभी डॉक्यूमेंट को जमा किया जाता है, जिसका मिलान सम्बंधित वेबसाइट या यूनिवर्सिटी में भेज कर किया जाता है | डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए भर्ती बोर्ड के द्वारा एक समिति का गठन किया जाता है, यह समिति अभ्यर्थी के डॉक्यूमेंट और भर्ती प्रक्रिया के नियम की विशेषज्ञ होती है | इस समिति में उन महत्वपूर्ण लोगों को चुना जाता है, जिन्हें डॉक्यूमेंट के असली और नकली के विषय में गहन जानकारी होती है |


इस प्रक्रिया में अभ्यर्थी को अपने सभी डॉक्यूमेंट को लेकर समिति के समक्ष जाना होता है, समिति आपके सभी डॉक्यूमेंट की जाँच करती है, यदि समिति को आवश्यकता होती है, तो वह आपके डॉक्यूमेंट को जमा करा सकती है | जिसकी पावती रसीद तुरंत आपको प्रदान कर दी जाएगी |


डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन में महत्वपूर्ण बिंदु
डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन में आपके प्रमाण पत्र और आवेदन पत्र में अभ्यर्थी के नाम, पिता का नाम और माता के नाम और फोटो का मिलान किया जाता है | इसके बाद पद के लिए निर्धारित योग्यता में अंकों का मिलान किया जाता है, किसी प्रकार की विषमता उत्पन्न होने पर अभ्यर्थी का चयन निरस्त करके अभ्यर्थी के विरुद्ध कानूनी कार्यवाही की जाती है | 


डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन में अनिवार्य डॉक्यूमेंटस
1.हाईस्कूल प्रमाण पत्र व अंक प्रमाण पत्र
2.इंटरमीडियट प्रमाण पत्र व अंक प्रमाण पत्र
3.स्नातक प्रमाण पत्र व अंक प्रमाण पत्र   
4.परास्नातक प्रमाण पत्र व अंक प्रमाण पत्र 
9.विकलांग व्यक्ति को अपना मेडिकल सर्टिफिकेट जमा करना होता है
10.पूर्व सैनिकों के लिए मूल निर्वहन प्रमाण पत्र
11.नियुक्ति की तारीख के साथ कर्मचारियों की सेवा से एनओसी
12.निर्वहन की संभावित तारीख के साथ रक्षा कर्मियों की सेवा से एनओसी
13.नाम के औपचारिक परिवर्तन के मामले में राजपत्र अधिसूचना और कोई कानूनी दस्तावेज
14.ट्रांसजेंडर अभ्यर्थियों द्वारा आत्म-प्रमाणन
15.कानून के न्यायालय से तलाक / न्यायिक पृथक्करण का निर्णय लागू और शपथ पत्र में कहा जायेगा कि अभ्यर्थी का पुन: विवाह नहीं हुआ है |
16.एक विधवा उम्मीदवार और शपथ पत्र के मामले में पति / पत्नी के मृत्यु पत्र का प्रमाण पत्र बताते हुए कि अभ्यर्थी ने फिर से शादी नहीं की है |
17.पूर्व-सैनिक जो इस सीईएन के लिए आवेदन करने के बाद नागरिक रोजगार सुरक्षित करते हैं, उन्हें संबंधित नियोक्ता को स्वयं घोषित करना होगा |


ऐसे ही डेली करंट अफेयर्सआर्टिकलप्रतियोगिता दर्पण मैगजीनसामान्य ज्ञान दर्पण तथा नौकरी सम्बन्धी जानकारी के लिए हमारें sarkarinaukricareer.in पोर्टल पर लॉगिन करके आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | यदि आपको यह जानकारी  पसंद आयी हो , तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें |


Advertisement


Advertisement


No comments:

Post a Comment

If you have any query, Write in Comment Box